Janmashtami 2022 Date: 18 या 19 अगस्त? किस दिन मनाई जाएगी जन्माष्टमी

3 Min Read

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव हिंदू कैलेंडर के अनुसार हर साल भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है. माना जाता है कि श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि पर रोहिणी नक्षत्र में हुआ था. ऐसे में इस साल जन्माष्टमी को लेकर भक्तों और जन्माष्टमी पर्व मनाने वाले लोगों के बीच काफी कंफ्यूजन की स्थिति है. कुछ लोगों का मानना है कि इस साल जन्माष्टमी 18 अगस्त को मनाई जाएगी, जबकि कुछ लोगों का कहना है कि इस साल जन्माष्टमी का पर्व 19 अगस्त को मनाया जाएगा. ऐसे में आइए जानते हैं इस साल 18 या 19 अगस्त कब और क्यों मनाई जाएगी जन्माष्टमी पर्व साथ ही पूजा विधि, भोग और शुभ मुहूर्त.

जानें कब है जन्माष्टमी 18 या 19 अगस्त को
साल 2022 में जन्माष्टमी 18 अगस्त को है या 19 अगस्त को है, ऐसे में जानिए श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव की सही तिथि और जन्माष्टमी के सही समय को लेकर आचार्य राहुल वशिष्ठ ने इस साल यानी 2022 के श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव को लेकर क्या कहना है जानें-

अष्टमी तिथि का प्रवेश इस बार 18 अगस्त 2022 दिन गुरुवार को रात्रि में हो रहा है. इस कारण कई लोग 18 अगस्त को जन्माष्टमी का व्रत रखेंगे. वहीं शास्त्रों के अनुसार हिंदू धर्म में उदया तिथि सार्वभौमिक माना गया है, इसलिए 19 अगस्त को जन्माष्टमी का व्रत रखेंगे. वैष्णव संपद्राय भी 19 अगस्त को ही श्री कृष्ण जन्मोत्सव मनाएगा.

श्रीकृष्ण का जन्म अष्टमी तिथि को रात 12 बजे हुआ था
मथुरा वृंदावन के पंडितों के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण का जन्म अष्टमी तिथि को रात 12 बजे हुआ था तो ये योग 19 अगस्त को बन रहा है. 19 अगस्त को पूरे दिन अष्टमी तिथि रहेगी और इसी तिथि में सूर्योदय भी होगा. इसलिए जन्माष्टमी 19 अगस्त को मनाई जाएगी. लेकिन धार्मिक दृष्टि से देखा जाए तो श्रीकृष्ण का जन्म अष्टमी तिथि को रात 12 बजे हुआ था. ऐसे में यह पर्व 19 अगस्त 2022 को ही मनाया जाएगा.

शुभ मुहूर्त:-

अष्टमी तिथि का आरंभ: गुरुवार 18 अगस्त, रात्रि  09:22 मिनट से
अष्टमी तिथि का समाप्त: शुक्रवार 19 अगस्त, रात्रि 10:59 मिनट तक
अभिजीत मुहूर्त: 12:05 मिनट से 12:56 मिनट तक

 

Share This Article