fbpx

साहित्य का महाकुंभ जेएलएफ कल से, राजस्थानी रंगों में सजा आयोजन स्थल

साहित्य का महाकुंभ जेएलएफ कल से, राजस्थानी रंगों में सजा आयोजन स्थल hindi news साहित्य का महाकुंभ जेएलएफ कल से, राजस्थानी रंगों में सजा आयोजन स्थल 22 01 2020 jaipur literature festival 19960996

Jaipur Literature Festival 2020

सहित्य का महाकुंभ जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल (जेएलएफ) गुरुवार से शुरू होगा। जयपुर के डिग्गी पैलेस होटल में पांच दिवसीय जेएलएफ का उद्घाटन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सुबह 10 बजे करेंगे। जेएलएफ में इस बार देश-दुनिया के 550 वक्ता शामिल होंगे। इनमें हर साल की तरह इस बार भी वक्ताओं के तौर पर लेखक, राजनेता, फिल्मी दुनिया से जुड़ी हस्तियां और पत्रकार कला, संविधान, फैशन, राजनीति, अर्थव्यवस्था, जलवायु परिवर्तन, करेंट अफेयर्स, लेखन, समाज और जीवित भाषाओं आदि विषयों पर अपनी बात रखेंगे।

फेस्टिवल के दौरान एनआरसी, सीएए और दिल्ली के जेएनयू जैसे मुद्दों पर भी चर्चा हो सकती है। हालांकि आयोजकों ने फिलहाल इन मुद्दों को फेस्टिवल में सूचीबद्ध नहीं किया है, लेकिन हर बार किसी ना किसी चर्चित विषयों को लेकर विवाद होता है तो इस बार इन तीनों मुद्दों पर चर्चा हो सकती है। इस बार जेएलएफ का आयोजन स्थल राजस्थानी रंगों से सजाया गया है, जिसमें प्रदेश की ऐतिहासिक परंपरा, विरासत से लेकर ग्लोबलिज्म का मिश्रण देखने को मिलेगा।

राजनेता और साहित्यकार होंगे शामिल 

फेस्टिवल के दौरान पूर्व मंत्री केजे अल्फॉंस साहित्य से जुड़े एक सत्र में वक्ता होंगे। वहीं, पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता जयराम रमेश पर्यावरण व जलवायु परिवर्तन से जुड़े सत्र में लेखक विजू बी एवं कृपा गे के साथ चर्चा करेंगे। पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर का एक सत्र शशि ऑन शशि होगा। फिल्म अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे और नंदिता दास दो अलग-अलग सत्रों में अपनी बात रखेंगी। गीताकार जावेद अख्तर लेखक और फेस्टिवल डायरेक्टर के दोहरे चरित्र विषय पर अपना पक्ष रखेंगे। इसी तरह पीएम के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन एशिया राइजिंग सत्र में पुर्तगाल सरकार के पूर्व मंत्री ब्रूनो मार्केस के साथ चर्चा करेंगे। इस सत्र में जेएनयू दिल्ली के प्रोफेसर दीपक नय्यर भी शामिल होंगे।

नोबल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी पुअर इकोनॉमिक्स फाइटिंग ग्लोबल पॉवर्टी सत्र में अपनी बात रखेंगे। राजनीतिक दार्शनिक गिरधर दास दुनिया बदलने में विषय पर निवेशक मोहित सत्यानंद के साथ संवाद करेंगे। चीन के लेखक ब्रूनो मार्केस नई व्यापार नीति के तौर पर भारत और दक्षिण एशिया की महत्वांकाक्षा विषय पर मनोज जोशी एवं सुजीव शाक्य के साथ संवाद करेंगे। फेस्टिवल के दौरान होने वाले सत्र द डूडलस ऑन लीडरशिप में टाटा संस के निदेशक आ.गोपालकृष्णन के साथ निवेशक मोहित सत्यानंद बात करेंगे।

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0