जोधपुर डिस्कॉम संभावित विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाएगा

जोधपुर डिस्कॉम संभावित विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाएगा  जोधपुर डिस्कॉम संभावित विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाएगा IMG 20210108 WA0017

जोधपुर डिस्कॉम संभावित विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाएगा mr bika fb post

बीकानेर। जोधपुर विद्युत वितरण निगम जोधपुर द्वारा संभावित विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए 11 से 23 जनवरी तक विशेष अभियान चलाया जाऐगा। इन दौरान आयोजित होने वाले विशेष शिविरों में विद्युत उपभोक्ताओं की शिकायतों के निस्तारण के साथ ही सुरक्षा उपायों सहित कई अन्य कार्य किए जायेंगे।

जोधपुर डिस्कॉम संभावित विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाएगा prachina in article 1

विशेष शिविरो में यह होगे कार्य –
प्रबंध निदेशक अविनाश सिंघवी ने बताया कि डिस्कॉम चेयरमैन के निर्देशानुसार शुरू किए जा रहे इस विशेष अभियान में न केवल विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए अपनाएं जाने वाले सुरक्षा उपायों पर चर्चा की जाएगी बल्कि 11 जनवरी से 23 जनवरी तक 33ध्11 केवी सब स्टेशन तथा विद्युत उप कार्यालयों में आयोजित किए जाने वाले शिविरों में हाई रिस्क प्वाइंट, ढीले तार, झुके पोल तथा मुख्य सड़कों के ऊपर से गुजरने वालों तारों को दुरूस्त किए जाएंगे। साथ ही विद्युत बिलों में संशोधन, पीडीसीध्डीसी वेरिफिकेशन तथा रिकवरी, आउट स्टेडिंग रिकवरी, केश कलेक्शन काउंटर संबंधी समस्याओं के अलावा लॉजिकल कन्कलुजन आॅफ वीसीआर, डीएल, एनडीएस व औद्योगिक कैटेगरी के लंबित कनेक्शन, 33ध्11 केवी सब स्टेशन की सुरक्षा व अर्थिंग वर्क, जले हुए ट्रांसफॉर्मर को बदलने, खराब मीटर बदलने तथा विद्युत आपूर्ति संबंधी समस्याओं का निस्तारण किया जाएगा।
वृत्त अधींक्षण अभिंयताओं को दो दिनो में शिविरों की योजना प्रस्तुत करने के दिए निर्देश-
प्रबन्ध निदेशक ने सभी वृत्तों के अधीक्षण अभियंताओं को निर्देश दिए हैं कि वे अगले दो दिनों में अपने वृतों में शिविरों के आयोजन संबंधी योजना बनाकर प्रस्तुत करें। सिंघवी  ने सभी अधीक्षण अभियंताओं, अधिशाषी व सहायक अभियंताओं को निर्देश दिया कि वे प्रतिदिन एक शिविर में अपनी उपस्थिति आवश्यक रूप से दर्ज कराएगें।
जोधपुर शहर में वार्ड वाईज शिविर आयोजित होगें-
प्रबन्ध निदेशक ने बताया जोधपुर शहर क्षेत्र में शिविरों का आयोजन वार्ड वाइज किया जायेगा । उन्होंने बताया कि हाई रिस्क प्वाइंट की पहचान कर उन्हें दुरूस्त करने का कार्य 31 जनवरी के बाद भी जारी रहेगा। उन्होंने अधिशाषी अभियंता एमआईएस जोधपुर डिवीजन को शिविरों की दैनिक कार्य प्रगति रिपोर्ट भेजने के भी निर्देश दिए।

COMMENTS