राजस्थान

राजस्थान में भी शराब पर लगेगा प्रतिबंध? राजस्थान पहुंची पांच सदस्यीय टीम

बिहार की तर्ज पर राजस्थान में भी पूर्ण शराबबंदी लागू हो सकती है. शराबबंदी का आकलन करने के लिए सोमवार को राजस्थान से पांच सदस्यीय टीम पटना पहुंची. इस टीम का नेतृत्व पूजा भारती छाबड़ा कर रही हैं. पूजा शराब के खिलाफ राजस्थान समेत पूरे देश मे वर्षों से अभियान चलाती आ रही हैं. पूजा ने बताया है कि पूर्ण शराबबंदी कानून से बिहार के लोगों को कितना फायदा हुआ है और कितना नुकसान, इसका मूल्यांकन किया जाएगा. साथ ही उनकी टीम इस बात का भी पता लगायेगी की शराबबंदी कानून लागू होने से बिहार को राजस्व का कितना नुकसान हुआ, और इस नुकसान के बावजूद भी राज्य ने वीते छह वर्षों में कितना विकास किया.

पूजा भारती छाबड़ा के साथ राजस्थान सरकार के मद्य निषेध विभाग के एक अधिकारी भी पटना पहुंचे हैं. पूजा ने बताया कि वो और उनकी टीम के सभी सदस्य बिहार पुलिस, मद्य निषेध प्रभाग के आला अधिकारियों, उत्पाद विभाग के अधिकारियों और गृह विभाग के अधिकारियों से शराबबंदी कानून को लेकर बात करेंगे. इसके अलावा, वो बिहार के कई जिलों का दौरा कर यह भी जानने का प्रयास करेंगे कि शराबबंदी कानून लागू होने के बाद यहां किस तरह के हालात हैं. उन्होंने कहा कि महिलाओं के मांग पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में शराबबंदी लागू की थी. बिहार की शराबबंदी की चर्चा पूरे देश में है इसीलिए वो लोग यहां शराबबंदी कानून का अध्ययन करने आए हैं.

राजस्थान सरकार को सौंपी जाएगी रिपोर्ट
उन्होंने कहा कि शराबबंदी को लेकर किये गए सर्वे से जुड़ी रिपोर्ट जांच कमेटी राजस्थान सरकार को सौपेंगी. पूजा भारती छाबड़ा ने कहा कि रिपोर्ट देखने के बाद यदि आवश्यकता पड़ी तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस मुद्दे पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात कर सकते हैं. क्योंकि शराबबंदी अच्छी पहल है और राजस्थान सरकार इसको लागू करना चाहती है. लेकिन, सबसे पहले इसका अध्ययन करना जरूरी है. साथ ही यह पता लगाना अतिआवश्यक है कि इसका इफेक्ट क्या हैं.

What's your reaction?