महावीर रांका बने आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष

महावीर रांका बने आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष  महावीर रांका बने आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष mhvir

महावीर रांका बने आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष mr bika fb post

गंगाशहर। नैतिकता का शक्तिपीठ परिसर में आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के ट्रस्ट मंडल की बैठक रविवार को आयोजित की गई। बैठक की विधिवत शुरूआत सामूहिक नवकार मंत्र के साथ हुई। अध्यक्ष जैन लूणकरण छाजेड़ ने अपने कार्यकाल में  संस्था द्वारा किए गए कार्यों के बारे में बताते हुए कहा कि प्रतिष्ठान ने ओडिटोरियम, बीएमटी यूनिट, प्रेक्षा कॉटेज, जैन कन्या महाविद्यालय में आचार्य तुलसी महाप्रज्ञ महाश्रमण भवन सहित अनेक सामाजोपयोगी कार्य किये तथा जारी है। छाजेड़ ने सभी ट्रस्टियों का अभार जताते हुए कहा कि प्रतिष्ठान के सभी ट्रस्टियों ने हमेशा पूरे तन-मन और धन से सहयोग किया। इन सभी भामाशाहों के सहयोग से ही प्रतिष्ठान आज इस मुकाम पर पहुंचा है जिसे जैन समाज में ही नहीं अपितु सभी समाज में अपनी अलग पहचान बनाई है। उन्होंने बताया कि गुरुदेव तुलसी महाश्रमण जी के आशीर्वाद से ही आज प्रतिष्ठान उच्च स्थान पर पहुंचा है। छाजेड़ ने सभी ट्रस्टियों का आभार जताया। साथ ही उन्होंने समस्त कर्मचारियों और जैन तेरापंथ समाज के लोगों का आभार जताया जिनके सहयोग से प्रतिष्ठान के सभी कार्यों को सुचारू और व्यवस्थित तरीके से किये जा सके। इस अवसर पर सभी ट्रस्टियों से आगामी कार्यों के बारे में विस्तारपूर्वक चर्चा की गई। बैठक के दौरान सभी पदाधिकारियों ने अणुव्रत गीत का सामूहिक गान किया।
बैठक के दौरान आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के नव अध्यक्ष के लिए जैन लूणकरण छाजेड़ ने महावीर रांका के नाम का प्रस्ताव रखा। इस पर सर्वसम्मति से आगामी 2020-23 तक के लिए महावीर रांका को अध्यक्ष पद पर सर्व सम्मति से मनोनीत किया गया। अध्यक्ष जैन लूणकरण छाजेड़, कोषाध्यक्ष बिमल चौपड़ा, सहमंत्री जेठमल बोथरा ने नवनियुक्त अध्यक्ष महावीर रांका को जैन पताका पहनाकर स्वागत किया तथा सफल कार्यकाल की शुभकामनाएं दी।
नवनियुक्त महावीर रांका ने कहा कि सभी का साथ और सहयोग से ही हम सभी कार्य को आसानी से कर सकेंगे। प्रतिष्ठान के द्वारा किए जा रहे कार्यों के साथ-साथ और नये आयाम भी भी स्थापित करेंगे जिससे प्रतिष्ठान के साथ-साथ समाज का नाम रोशन होगा।
हंसराज डागा ने कहा कि महावीर रांका एक राजनैतिक क्षेत्र में उच्च स्थान प्राप्त किया है। वे दृढ़ निश्चय होने के साथ-साथ लक्ष्य प्राप्ति के लिए निरंतर लगे रहते है। इसी के लिए वे अपने हाथ में लिया गया कार्य हमेशा पूरा करते है। जतन संचेती ने नवनियुक्त अध्यक्ष रांका का स्वागत करते हुए कहा कि प्रतिष्ठान द्वारा किए जा रहे कार्यों को और आगे तक लेकर जाएं। साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में भी प्रतिष्ठान द्वारा कार्य किया जाने का सुझाव दिया। इस अवसर पर दीपिका बोथरा, अमरचंद सोनी, दिल्ली से सुशील जैन, मुंबई से नवरतन सेठिया, गणेशमल बोथरा, नारायण गुलगुलिया, विनोद बाफना, मनोहर नाहटा, किशन बैद ने नवनियुक्त अध्यक्ष महावीर रांका को बधाई दी। सहमंत्री जेठमल बोथरा ने ट्रस्ट मंडल की पिछली बैठक की कार्यवाही का वाचन किया। उपस्थित ट्रस्टियों ने आचार्य तुलसी समाधि स्थल के दर्शन कर माला फेरी। उसके बाद तेरापंथ भवन, शान्ति निकेतन व बोथरा भवन में विराजित चारित्रात्माओं के दर्शन कर मंगलपाठ सुना।

महावीर रांका बने आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष prachina in article 1

COMMENTS