जिला कलेक्टर सहित अनेक अधिकारी शहर की गलियों में चले पैदल

जिला कलेक्टर सहित अनेक अधिकारी शहर की गलियों में चले पैदल  जिला कलेक्टर सहित अनेक अधिकारी शहर की गलियों में चले पैदल hds

बीकानेर।  कोरोना संक्रमण की रोकथाम के जनांदोलन के तहत ‘हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा’ अभियान शुक्रवार को प्रारम्भ हुआ। पहले दिन जिले के प्रशासनिक अधिकारियों ने विभिन्न मार्गों से पद यात्राएं निकालीं। इस दौरान आमजन से मास्क पहनने, सोशल डिसटेंसिंग रखने की अपील की गई।
मुख्य पदयात्रा राजीव गांधी मार्ग से निकली। जहां से पुलिस महानिरीक्षक प्रफुल्ल कुमार और जिला कलक्टर नमित मेहता सहित आला अधिकारी पैदल निकले और कोरोना एडवाइजरी की पालना की समझाइश की। पदयात्रा यहां से रवाना होकर सट्टा बाजार, कोटगेट, जोशीवाड़ा, तेलीवाड़ा होते हुए मोहता चैक पहुंची। इस दौरान मास्क नहीं लगाने वालों से समझाइश की गई तथा मास्क एवं पेम्फलेट्स वितरित किए गए। सभी अधिकारियों का एक साथ पैदल निकलना आमजन के लिए उत्सुकता का विषय था।
इस दौरान अनेक स्थानों पर पुष्पवर्षा कर अधिकारियों का अभिनंदन किया गया। नागरिकों ने कोरोना एडवाइजरी की पालना करने का संकल्प लिया तथा प्रण किया कि दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करेंगे। पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में मास्क ही बचाव है। इसके मद्देनजर कोई व्यक्ति मास्क लगाए बिना घरों से नहीं निकले। सामूहिक प्रयासों और जागरुकता से ही कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सकेगा। उन्होंने कहा कि आज की परिस्थितियों में प्रत्येक व्यक्ति ‘कोरोना योद्धा’ बने और पूर्ण सर्तकता रखते हुए कोरोना को मात देने का प्रयास करे।

जिला कलेक्टर सहित अनेक अधिकारी शहर की गलियों में चले पैदल prachina in article 1

जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार कोरोना के विरूद्ध जनांदोलन चलाया जा रहा है। इसी श्रृंखला में जिला प्रशासन द्वारा पहल करते हुए ‘हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा’ अभियान शुरू किया गया है। इसका मुख्य उद्देश्य आमजन को कोरोना से बचाव के लिए जागरुक करना है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक शहरवासी अभियान का भागीदारी बने और खुद सतर्क रहकर दूसरों को भी प्रेरित करें। अभियान के तहत 31 अक्टूबर तक अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इनमें विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग भी लिया जाएगा।
जिला कलक्टर ने कहा कि कोरोना को मात दे चुके नागरिक प्लाज्मा दान करें, जिससे गंभीर मरीजों का जीवन बचाया जा सके। संस्थाओं द्वारा इसके लिए भी अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन की पहल पर 20 अक्टूबर से विभिन्न वर्गों के साथ संवाद भी प्रारम्भ किया जाएगा। इस दौरान चिकित्सा विभाग के विशेषज्ञों द्वारा जागरुक किया जाएगा। उन्होंने ‘नो मास्क, नो एंट्री’ अभियान के बारे में भी बताया तथा कहा कि अब इसका प्रभाव दिखने लगा है।
अभियान समन्वयक राजेन्द्र जोशी ने पंद्रह दिनों के अभियान की रूपरेखा के बारे में बताया। इस दौरान नगर विकास न्यास सचिव मेघराज सिंह मीना, जिला शिक्षा अधिकारी उमाशंकर किराडू, सुनील बोड़ा, जिला उद्योग केन्द्र की महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे। पहले दिन जिला मुख्यालय के 16 सेक्टर क्षेत्रों एवं सभी उपखण्ड मुख्यालयों पर भी पदयात्राएं निकाली गई।

अनेक स्थानों पर हुआ अभिनंदन
पदयात्रा के दौरान शहरवासियों, स्वयंसेवी संस्थाओं और आमजन ने प्रशासनिक अधिकारियों का पुष्प वर्षा के साथ अभिनंदन किया। कोटगेट के पास नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष मकसूद अहमद के नेतृत्व में पुष्पवर्षा की गई। इस दौरान मोहम्मद रमजान कच्छावा, डाॅ. मिर्जा हैदर बेग, मोहम्मद इस्माइल आदि मौजूद रहे। वहीं रोटरी क्लब बीकानेर मरुधरा के राहुल माहेश्वरी, सुधीर भार्गव, गोपाल अग्रवाल, ऋषि धामू, आनंद गांधी, पार्वती चेरिटेबल ट्रस्ट के लालचंद तुलसानी लालचंद सियाग एवं मानसिंह, दाऊजी रोड और मोहता चैक में मारवाड़ जन सेवा संस्थान के अध्यक्ष रमेश व्यास की अगुवाई में अभिनंदन किया गया।
घर-घर लगाएंगे स्टीकर
‘हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा’ अभियान के दूसरे दिन शनिवार को घर-घर स्टीकर लगाने का अभियान शुरू होगा। इसकी शुरूआत जस्सूसर गेट के अंदर प्रातः 11 बजे होगी। यह अभियान 16 सेक्टर क्षेत्रों और उपखण्ड मुख्यालयों पर भी होगा। वहीं तीसरे दिन रविवार को रणबांकुरा क्लब आफ बुलेट के सहयोग से बाइक रैली निकाली जाएगी। बाइक रैली जूनागढ़ के आगे से सायं 4 बजे प्रारम्भ होगी और शहर के विभिन्न क्षेत्रों से होते हुए गांधी पार्क में सम्पन्न होगी। जिला कलक्टर मेहता ने इन दोनों कार्यक्रमों की तैयारियों की समीक्षा की।

जिला कलेक्टर सहित अनेक अधिकारी शहर की गलियों में चले पैदल IMG 20201016 WA0015 400x283

COMMENTS