7 सितंबर से शुरू होगी मेट्रो ,नए नियम और किन बातों का रखना होगा ख्याल

7 सितंबर से शुरू होगी मेट्रो ,नए नियम और किन बातों का रखना होगा ख्याल  7 सितंबर से शुरू होगी मेट्रो ,नए नियम और किन बातों का रखना होगा ख्याल jdfd

नई दिल्ली
केंद्रीय शहरी आवास और नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने बुधवार को बताया कि देशभर में मेट्रो सेवाओं को बहाल करने की पूरी तैयारी की जा चुकी है। 7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं शुरू होंगी और 12 सितंबर तक सभी मेट्रो चलने लगेंगीं। हालांकि, महाराष्ट्र में मेट्रो और मोनो रेल सेवाएं अक्टूबर में शुरू होंगी क्योंकि राज्य सरकार अभी उन्हें शुरू करने के पक्ष में नहीं है। यात्रा में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन हो, इसके लिए स्टैंडर्ड ऑपरेशनल प्रोसीजर (SOP) तैयार किया गया है। सभी यात्रियों के लिए मास्क अनिवार्य होगा। सोशल डिस्टेंसिंग के लिए स्टेशन, प्लेटफॉर्म और ट्रेन के अंदर निशान बनाए गए होंगे। यात्रियों को जेब में भी सैनिटाइजर रखने की सलाह दी गई है।

7 सितंबर से शुरू होगी मेट्रो ,नए नियम और किन बातों का रखना होगा ख्याल prachina in article 1

दिल्ली, नोएडा, चेन्नै, बेंगलुरु, मुंबई लाइन 1, जयपुर, हैदराबाद, कोच्चि, महामेट्रो नागपुर, कोलकाता, गुजरात और यूपी मेट्रो लखनऊ ने अपने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर को तैयार कर लिया है। पुरी ने कहा कि मेट्रो सेवाओं की बहाली की समीक्षा होगी। अगर भीड़भाड़ हुई और सोशल डिस्टेंसिंग का सही से पालन नहीं होता है तो मेट्रो चलाने के फैसले की समीक्षा की जा सकती है।

मेट्रो में सफर से पहले जान लीजिए ये बातें

-गृह मंत्रालय ने 29 अगस्त को जारी गाइडलाइंस में देशभर में मेट्रो सर्विसेज को चरणबद्ध तरीके से शुरू करने को हरी झंडी दी थी।

-कुछ गाइडलाइंस बनाई गई हैं। कई मेट्रो रेल कंपनियों की तरफ से कुछ एसओपी बनाई गई हैं।

– चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं शुरू हो रही हैं। जिन मेट्रो में एक से ज्यादा लाइने हैं, वह 7 सितंबर से शुरू हो जाएंगी। 12 सितंबर तक सभी लाइनें शुरू हो जाएंगी।

– देशभर में 12 मेट्रो कंपनियां 18 शहरों में मेट्रो सेवाएं देती हैं।

– कंटेनमेंट जोन्स में स्थित मेट्रो स्टेशनों पर एन्ट्री और एग्जिट गेट बंद रहेंगे।

– सोशल डिस्टेंसिंग को सुनिश्चित करने के लिए स्टेशन और ट्रेन के भीतर निशान रहेंगे।

– ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी ऐसी रखी जाएगी ताकि भीड़ न हो।

– सभी यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा। मेट्रो की तरफ से मास्क की सप्लाई सुनिश्चित की जाएगी। जो लोग बिना मास्क के आएंगे उन्हें पैसे देकर मास्क खरीदना पड़ेगा।

– सिम्प्टोमैटिक व्यक्ति को नजदीकी कोविड केयर सेंटर, अस्पताल पहुंचाया जाएगा ताकि उसकी जांच हो।

– आरोग्य सेतु ऐप के इस्तेमाल को प्रोत्साहित किया जाएगा

– एंट्री गेट पर यात्रियों को हाथ सैनिटाइज करने के लिए सैनिटाइजर मिलेगा

– जिन-जिन जगहों तक लोग जाते हैं, उन सबका सैनिटाइजेशन होगा। ट्रेन, एस्कलेरेटर, हैंड रेल, लिफ्ट, टाइलट वगैरह को सैनिटाइज किया जाएगा।

– स्मार्ट कार्ड और कैशलेस ऑनलाइन ट्रांजैक्शन को प्रोत्साहित किया जाएगा।

– मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन बीच-बीच में कुछ स्टेशनों पर ट्रेनों को नहीं ठहराएंगी ताकि भीड़ न हो। इसका फैसला मेट्रो कंपनियां करेंगी।

– दिल्ली, नोएडा, चेन्नै, बेंगलुरु, मुंबई लाइन 1, जयपुर, हैदराबाद, कोच्चि, महामेट्रो नागपुर, कोलकाता, गुजरात और यूपी मेट्रो लखनऊ ने अपने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर को तैयार कर लिया है।

– महाराष्ट्र सरकार ने सितंबर महीने तक मेट्रो और मोनो रेल को शुरू नहीं करने का फैसला किया है। वहां अक्टूबर में मेट्रो और मोनो रेल सेवाएं बहाल की जाएंगी।

COMMENTS