Rajasthan में 50 हजार पदों पर होंगी नई भर्तियां, शिक्षा विभाग में मिलेंगे मौके

Rajasthan में 50 हजार पदों पर होंगी नई भर्तियां, शिक्षा विभाग में मिलेंगे मौके  Rajasthan में 50 हजार पदों पर होंगी नई भर्तियां, शिक्षा विभाग में मिलेंगे मौके bhrtiya

Rajasthan में 50 हजार पदों पर होंगी नई भर्तियां, शिक्षा विभाग में मिलेंगे मौके mr bika fb post

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने अपने तीसरे कार्यकाल के तीन बजट में एक बार फिर से बेरोजगारों के लिए रोजगार (Employment) का पिटारा खोला है.

Rajasthan में 50 हजार पदों पर होंगी नई भर्तियां, शिक्षा विभाग में मिलेंगे मौके prachina in article 1

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अगले 2 साल में 50 हजार नई भर्तियों की घोषणा की है तो वहीं इन भर्तियों में सबसे ज्यादा करीब 20 हजार पदों पर शिक्षा विभाग (Education Department) में नौकरी की सौगात मिलेगी. ऐसे में रोजगार की आस देख रहे बेरोजगारों की उम्मीदों को जल्द ही पंख लगेंगे.

प्रदेश सरकार के बजट में एक बार फिर से नौकरी की सौगात का पिटारा खुला है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य सरकार (State Government) के बजट में अगले 2 सालों में विभिन्न विभागों में 50 हजार पदों पर नई भर्तियों की घोषणा की है. इसमें सबसे ज्यादा 19 हजार पदों पर शिक्षा विभाग में भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी तो वहीं अन्य विभागों में भी बम्पर भर्तियों की सौगात दी गई है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट में दी नौकरियों की सौगात

  • अगले 2 सालों में विभिन्न विभागों में होगी 50 हजार नई भर्तियां
  • शिक्षा विभाग में 19 हजार पद, एग्रीकल्चर में 1674 पद,
  • एनीमल हसबेंडरी में 836 पद, आयुर्वेद में 890 पद
  • वन विभाग में 1700 पद, गृह विभाग में 8438 पद
  • मेडिकल हेल्थ में 5 हजार पद, पीएचईडी में 3838 पद
  • पीडब्ल्यूडी में 1538 पद, रेवेन्यू में 1100 पद सहित
  • अन्य विभागों में करीब 8 हजार पदों पर भर्तियों की सौगात

अन्य भर्तियों की घोषणा को पूरा करने की उठी मांग
मुख्यमंत्री द्वारा विभिन्न विभागों में की गई 50 हजार पदों पर भर्ती की घोषणा के बाद अब सभी ओर इसकी प्रशंसा हो रही है लेकिन साथ ही मांग उठने लगी है कि नई भर्तियों के साथ ही पिछले दो सालों में की गई अन्य भर्तियों की घोषणा को भी जल्द पूरा किया जाना चाहिए.
शिक्षाविद और व्याख्याता पंकज ओसवाल (Pankaj Oswal) का कहना है कि “स्कूल शिक्षा और उच्च शिक्षा में लगातार बद खाली होने के चलते समस्या का सामना करना पड़ रहा है हालांकि शिक्षा विभाग में 19 हजार पदों पर भर्ती की घोषणा हुई है लेकिन अगर उच्च पदों की बात की जाए तो वो लगातार खाली होते जा रहे हैं. ऐसे में भर्तियों के साथ ही पदोन्नति की ओर भी सरकार को ध्यान देना चाहिए, जिससे शिक्षा का स्तर सुधर सके.”

क्या कहना है राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ अध्यक्ष का
तो वहीं दूसरी ओर बेरोजगारों ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की इस घोषणा का स्वागत किया है. राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ अध्यक्ष उपेन यादव का कहना है कि “50 हजार पदों पर भर्ती होने के बाद विभागों में कामों को गति मिलेगी लेकिन इन पदों पर होने वाली भर्ती की प्रोपर मॉनिटरिंग हो साथ ही भर्तियों का एक कलेंडर बनाया जाए तो भर्तियां समय पर पूरी होंगी. इसके साथ ही पिछले दो सालों में जो अन्य भर्तियों की घोषणा की गई है वो भी पूरी हो तो कहीं ना कहीं विभागों में सालों से खाली पड़े पद भरेंगे साथ ही बेरोजगारों को रोजगार की सौगात भी मिलेगी.”
बहरहाल, प्रदेश के युवाओं को खुश करने के लिए मुख्यमंत्री ने अगले 2 सालों में 50 हजार पदों पर भर्तियों की घोषणा की है लेकिन साथ ही युवाओं की मांग है कि अगर भर्तियों के कलेंडर जारी कर समय पर पूरा किया जाए तो ये घोषणा धरातल पर समय पर उतरने के साथ ही युवाओं को रोजगार का सपना भी पूरा होगा.

COMMENTS