पुष्करणा समाज की आचार्य जाति के उत्त्पतिकर्ता महापुरूष ब्रह्मा दादा का निर्वांण दिवस शुक्रवार को

पुष्करणा समाज की आचार्य जाति के उत्त्पतिकर्ता महापुरूष ब्रह्मा दादा का निर्वांण दिवस शुक्रवार को  पुष्करणा समाज की आचार्य जाति के उत्त्पतिकर्ता महापुरूष ब्रह्मा दादा का निर्वांण दिवस शुक्रवार को brhmadada

पुष्करणा समाज की आचार्य जाति के उत्त्पतिकर्ता महापुरूष ब्रह्मा दादा का निर्वांण दिवस शुक्रवार को mr bika fb post

पुष्करणा समाज की आचार्य जाति के उत्त्पति कर्ता श्री श्री 1008 ब्रह्मा दादा का निर्वांण दिवस आचार्य श्री धरणीधर महादेव मंदिर स्थित उन के मंदिर मे शुक्रवार को दिन भर मनाया जायेगा। ब्रह्मा दादा के लापसी, बेर, रेवड़ी का प्रसाद अर्पित कर समस्त पुष्करणा समाज की आचार्य जाति के बंधु अपने घर के आंगन में भी सफेद एवं लाल मिट्टी से उनके  चित्र की आकृति बनाकर ब्रह्मा दादा का पूजन अर्चन आरती करेंगे तथा भोग लगा कर समस्त परिवार जन उस प्रसाद को ग्रहण करेंगे । समाजसेवी श्रीनारायण आचार्य ने बताया की जैसलमेर स्थित सोनार किले मे लक्ष्मीनाथ जी मंदिर के पास ब्रह्मा दादा ने जीवित समाधि ली थी । उस समय उनका सारा शरीर जमीन मे चला गया। लेकिन सिर पर रखी गयी चोटी (शिखा) बाहर रह गयी थी । उसको प्रतिक मानकर प्रत्येक पुष्करणा समाज की आचार्य जाति बंधु उनका पूजन माघ शुक्ल सप्तमी के दिन करते है । मुख्य पूजन आरती श्रृंगार प्रसाद चढ़ाने का कार्यक्रम धरणीधर महादेव मंदिर मे स्थित ब्रह्मा दादा के मंदिर मे होगा। जिसमे समस्त आचार्य बंधु भाग लेंगे ।

पुष्करणा समाज की आचार्य जाति के उत्त्पतिकर्ता महापुरूष ब्रह्मा दादा का निर्वांण दिवस शुक्रवार को prachina in article 1

COMMENTS