कोरोना जांच के लिए अब साथ में लाना होगा ये कार्ड , कलेक्टर ने दिया आदेश

कोरोना जांच के लिए अब साथ में लाना होगा ये कार्ड , कलेक्टर ने दिया आदेश  कोरोना जांच के लिए अब साथ में लाना होगा ये कार्ड , कलेक्टर ने दिया आदेश dgfhdg

बीकानेर। कोरोना जांच के लिए जाने वाले व्यक्ति को अब आधार कार्ड अनिवार्यतः रूप से प्रस्तुत करना होगा। जिला कलक्टर नमित मेहता ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक में ये निर्देश दिए। मेहता ने कहा कि कई जांच केन्द्रों पर व्यक्तियों के नाम बदलकर पुनः जांच करवाने की शिकायतें मिल रही है। ऐसे में आधार कार्ड के माध्यम यह सुनिश्चित किया जाए कि जांच के सेम्पल लेने के समय व्यक्ति के आधार कार्ड की काॅपी साथ में लें। एरिया मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्र में आने वाले जांच केन्द्रों पर रेण्डम निरीक्षण कर जांच करेंगे कि आधार कार्ड के बिना तो जांच नहीं की जा रही है।
वार रूम में आवश्यक रूप से उपस्थित रहे अधिकारी
जिला कलक्टर ने कहा कि वार रूम में नियुक्त अधिकारी आवश्यक रूप से उपस्थित रहे। परिस्थितिवश वार रूम छोड़ना पड़े तो अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर को सूचित करने के पश्चात ही वार रूम से निकले। जिला कलक्टर ने कहा कि अब कोविड-19 की जांचे नए किट से की जाए।

कोरोना जांच के लिए अब साथ में लाना होगा ये कार्ड , कलेक्टर ने दिया आदेश prachina in article 1

अनावश्यक रूप से बर्बाद ना हो भोजन
मेहता ने कहा कि कोविड अस्पताल में यह सुनिश्चित किया जाए कि भोजन की बर्बादी ना हो। केवल ऐसे मरीजों को भोजन दिया जाए जो इसकी मांग करते हैं। इसके लिए घर से भोजन मंगवा रहे मरीजों की सूची संधारित करें और आवश्यकता के हिसाब से ही भोजना के पैकेट भिजवाएं। उन्होंने नगर निगम आयुक्त को इस सम्बंध में व्यवस्थाएं दुरूस्त करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने पीबीएम अधीक्षक को सुपरस्पेशिलिटी ब्लाॅक के प्रत्येक फ्लोर में सुरक्षा गार्ड की ड्यूटी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी परिजन आधे घंटे से अधिक समय तक मरीज के पास ना ठहरें। उन्होंने अधीक्षक से आॅक्सीजन की उपलब्धता का नियमित रिव्यू करने के निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी स्थिति में आॅक्सीजन की सप्लाई कम नहीं रहे।
मेहता ने कहा कि  सेटेलाइट अस्पताल में 25 आक्सीजन मय बेड की व्यवस्था करवाएं। इस कार्य में कोविड नोडल अधिकारी गोपालराम बिरदा को बेड लगाए जाने की फिजिबिलिटी की जांच करने व अन्य व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने कहा कि एरिया मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्र में निरीक्षण कर रेण्डम रूप से लोगों से जानकारी लें कि नर्सिंग स्टाफ नियमित जांच के लिए आ रहा है अथवा नहीं।  होम आइसोलेट लोगों को दवा मिलना सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए जोन प्रभारी प्रतिदिन 10 से 15 घरों की विजिट कर क्राॅस चैक करेंगे।

COMMENTS