अब रोडवेज में बिना टिकट मिले तो यात्री और कंडक्टर से वसूला जायेगा 10 गुना जुर्माना

अब रोडवेज में बिना टिकट मिले तो यात्री और कंडक्टर से वसूला जायेगा 10 गुना जुर्माना  अब रोडवेज में बिना टिकट मिले तो यात्री और कंडक्टर से वसूला जायेगा 10 गुना जुर्माना nbidj

अब रोडवेज में बिना टिकट मिले तो यात्री और कंडक्टर से वसूला जायेगा 10 गुना जुर्माना mr bika fb post

रोडवेज बसों (Roadways buses) में बिना टिकट यात्रा करना अब यात्री और कंडक्टर (Passenger and conductor) दोनों को महंगा पड़ेगा. बिना टिकट (Without ticket) मिलने पर यात्री और कंडक्टर दोनों पर किराये का 10-10 गुना तक जुर्माना (Fine) लगेगा. गहलोत कैबिनेट ने परिवहन विभाग के इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है.मुख्यमंत्री के आवास पर मंगलवार को हुई कैबिनेट बैठक में राजस्थान राज्य पथ परिवहन सेवा (बिना टिकट यात्रा निवारण) अधिनियम, 1975 में संशोधन के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई है. इस संशोधन के बाद समुचित पास या बिना टिकट यात्रा करने वाले व्यक्ति से टिकट दर की 10 गुना अधिक राशि वसूल की जायेगी.

अब रोडवेज में बिना टिकट मिले तो यात्री और कंडक्टर से वसूला जायेगा 10 गुना जुर्माना prachina in article 1

 

इसलिये किया गया है ऐसा
दरअसल, रोडवेज प्रशासन प्रदेशभर में करीब 3 हजार 876 बसों का संचालन करता है. प्रदेश के 52 डिपो से चलने वाली ये बसें रोजाना 9 हजार ट्रिप करती हैं. इन बसों में हर माह औसतन 700 यात्री बिना टिकट पकड़े जाते हैं, लेकिन उनसे 250 या 500 रुपये जुर्माना लेकर छोड़ दिया जाता है. इसी तरह परिचालक के खिलाफ विभागीय जांच तो होती है, लेकिन अधिकतर मामले में वे निर्दोष साबित हो जाते हैं. इससे विभाग को लाभ भी नहीं होता और अनावश्यक कागजी कार्रवाई बढ़ जाती है. प्रदेशभर में करीब 1400 चालकों और परिचालकों के खिलाफ इस तरह की जांच लंबित है.

जुर्माने का नया टैरिफ बनेगा
परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा कि प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद जुर्माने का नया टैरिफ बनाया जा रहा है. हालांकि इसमें बदलाव संभव है लेकिन अभी 100 रुपये के टिकट के एवज में 10 गुना जुर्माने का प्रावधान किया गया है. 100 रुपये के यात्रा टिकट पर 1000 रुपये के जुर्माने का प्रावधान किया गया है. 200 रुपये के यात्रा टिकट 1600 रुपये और 500 रुपये के टिकट पर 1250 रुपये का जुर्माना लगाया जायेगा. उम्मीद जताई जा रही है कि नये प्रावधान के बाद बिना टिकट यात्री करने वाले यात्रियों में कमी आयेगी. वहीं इस मामले को लेकर रोडवेजकर्मियों की ओर से किये जाने वाले भ्रष्टाचार पर भी अंकुश लग सकेगा.

COMMENTS