जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है। बुधवार रात पाकिस्तान ने भारतीय सीमा की ओर गोलीबारी की और मोर्टार दागे।भारतीय सेना ने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया। पाकिस्तान ने बुधवार रात लगभग 12:30 बजे नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा(एलओसी) के पास संघर्षविराम का उल्लंघन किया। पाकिस्तान ने मंगलवार को लगातार तीसरे दिन सीजफायर का उल्लंघन किया था। जम्मू-कश्मीर के तंगधार में पाकिस्तान की ओर से मोर्टार दागे गए। भारत ने भी इस हमले के जवाब में खूब फायरिंग की।

सीमा पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, भारतीय सेना का मुंहतोड़ जवाब, 4 नागरिक घायल prachina in article 1

जम्मू और कश्मीर: संबधित अधिकारियों ने बताया कि कुपवाड़ा के अग्रिम इलाकों में अाधी रात के बाद गोलबाारी थम गइ। लेकिन जिला बांडीपोर के गुरेज सेक्टर में पाकिस्तानी सैनिकों ने गोलाबारी शुरु कर दी। पाकिस्तानी सैनिकों ने बगतूर सेक्टर में स्थित अग्रिम नागरिक व सैन्य ठिकानों पर गोलाबारी की। इसमें रहमी बानो पत्नी अब्दुल अहद बट को स्वास्थ्य विभाग के एक कर्मी मंजूर अहमद मलिक समेत दो लोग जख्मी हो गए। दोनों को स्थानीय प्रशासन ने सेना की मदद से उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया। रहमी बेगम को स्थानीय डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसी समय श्रीनगर के लिए रेफर कर दिया जहां आज तड़के करीब दो बजे उसकी मौत हो गई। रहमी बेगम और मंजूर अहमद मलिक को पाकिस्तानी सेना द्वारा दागे गए तोप के गोलों के छर्रोें से गंभीर चोटें पहुंची थी।

मंगलवार को PAK ने तोड़ा था सीज़फायर
पाकिस्तान सीजफायर का उल्लंघन करने से बाज नहीं आ रहा है। मंगलवार दोपहर डेढ़ बजे के करीब पाकिस्तान ने अचानक भारतीय चौकियों को निशाना बनाते हुए कश्मीर के जिला कुपवाड़ा में तंगधार आैर जिला राजौरी के सुंदरबनी के केरी सेक्टर में गोलीबारी की।

18 जैकलाइ के नायक कृष्ण लाल शहीद
अचानक की गइ इस गोलीबारी में सुंदरबनी में एक भारतीय जवान शहीद हो गया। वहीं तंगधार में गोलाबारी के जवाब में भारतीय सेना के जवानों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। सैन्य सूत्रों का कहना है कि जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के भी दो जवान मारे गए हैं।वहीं सुंदरबनी में पाकिस्तान की ओर से की गई गोलाबारी में शहीद हुआ जवान 18 जैकलाइ(JAKLI) का बताया जा रहा है। शहीद की पहचान नायक कृष्ण लाल पुत्र चुन्नी लाल निवासी घिघरियाल खौड़ के रूप में हुई है।

सैन्य सूत्रों के मुताबिक यह गोलीबारी दोपहर डेढ़ बजे तंगधार सेक्टर में जाल कांपलेक्स के नजदीक शुरू हुई। पाकिस्तानी सैनिकों ने भारतीय चौकियों को सीधा निशाना बनाते हुए पहले तो गोलियां चलाई उसके बाद मोटार्र भी दागे। भारतीय जवानों ने भी अपनी पोजीशन लेते हुए पाकिस्तानी गोलाबारी का जवाब देना शुरू कर दिया। गोलाबारी का यह सिलसिला करीब एक घंटे तक चला।

सैन्य अधिकारियों का कहना है कि सीमा पर घुसपैठ कराने के लिए अकसर पाकिस्तानी इस तरह बिना उकसावे की गोलाबारी करता है। भारतीय जवान पुरी तरह से मुस्तैद हैं और सीमा पर हर संदिग्ध हलचल पर नजर बनाए हुए हैं। सेना ने यह जानकारी भी दी कि इस गोलाबारी में किसी तरह के नुकसान की सूचना नहीं है।