fbpx

बीकानेर के पूर्व महाराजा गंगासिंह के नाम से डाक टिकट जारी

Bikaner के तत्कालीन महाराजा गंगासिंह Ganga Singh former Maharaja के नाम से मंगलवार को डाक टिकट Postage stamp जारी हुआ। इसके लिए नई दिल्ली में डाक विभाग की प्रथम विश्व युद्ध से संबंधित सभी संधियों को लेकर बैठक हुई। सौ साल पहले हुई वर्साय संधि में बीकानेर के तत्कालीन महाराजा गंगासिंह का अहम रोल था। वे इस संधि में भारत की ओर से प्रतिनिधि के तौर पर गए थे। इस संधि में पराजित जर्मनी, ब्रिटेन, फ्रांस व अमेरिका के प्रतिनिधि शामिल रहे। यह संधि 28 जून, 1919 को हॉल ऑफ मिरर में हुई थी।डाक विभाग ने प्रथम विश्व युद्ध से संबंधित 15 डाक टिकट जारी किए। इन्हें चार तरह की मिनिएचर सीट पर जारी किया है। पहली सीट में40 रुपए, दूसरी सीट में 45 रुपए, तीसरी सीट में 25 रुपए तथा चौथी सीट में 30 रुपए के डाक टिकट हैं। इनमें सबसे आकर्षक डाक टिकट वर्साय संधि का है, जिसमें तत्कालीन महाराजा गंगासिंह विशेष भूमिका में थे। डाक टिकट में सभी लोगों का नाम न देते हुए महाराजा गंगासिंह के नाम से संबोधित किया है। हालांकि उनके साथ अन्य लोग भी दिख रहे हैं। मिनिएचर सीट पर डाक विभाग ने महाराजा गंगासिंह का नाम हिन्दी व अंग्रेजी में दिया है।

बीकानेर के पूर्व महाराजा गंगासिंह के नाम से डाक टिकट जारी ganga singh 850x491 650x375

संग्रहकर्ता में उत्साह
डाक टिकट एवं देशी-विदेशी मुद्राओं के संग्रहकर्ता भारतभूषण गुप्ता ने बताया कि इस सीट पर बीकानेर के पूर्व महाराजा गंगासिंह का नाम आने से सभी डाक टिकट संग्रहकर्ताओं में उत्साह है। संग्रहकर्ता सुधीर लुणावत ने बताया कि यह मिनिएचर सीट की संख्या एक लाख से ज्यादा हो सकती है। बीकानेर के प्रधान डाकघर में जिन संग्रहकर्ताओं के फिलेटेली अकाउंट है या जो भारतीय डाक विभाग की वेबसाइट पर पंजीकृत हैं, वे डाक टिकट खरीद सकते है। इस मिनिएचर सीट में २८ डाक टिकटें आती हैं, जिनकी कीमत 700 रुपए है। वहीं एक डाक टिकट 25 रुपए का है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0