Delhi : अब बिजली की किल्लत, दिल्ली के कई इलाकों में बत्ती गुल, मंत्री ने बताई कटौती की वजह

4 Min Read
अब बिजली की किल्लत, दिल्ली के कई इलाकों में बत्ती गुल

Delhi  : पहले से पानी की किल्लत से जूझ रही दिल्ली अब बिजली की कमी का सामना कर रही है। दिल्ली सरकार की मंत्री आतिशी ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने एक्स पर पोस्ट कर बताया कि दिल्ली के कई इलाकों में दोपहर 2:11 बजे से बिजली गुल है। यह समस्या यूपी के मंडोला में पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (पीजीसीआईएल) के सब-स्टेशन में आग लगने की वजह से हुई है। इस सब-स्टेशन से दिल्ली को 1200 मेगावाट बिजली मिलती है।

फिलहाल बिजली बहाली की प्रक्रिया शुरू हो गई है और धीरे-धीरे प्रभावित इलाकों में बिजली वापस आ रही है। लेकिन राष्ट्रीय विद्युत ग्रिड में यह बड़ी विफलता अत्यंत चिंताजनक है। आतिशी ने बताया कि उन्होंने केंद्रीय विद्युत मंत्री और पीजीसीआईएल के चेयरमैन से मिलने का समय मांगा है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि ऐसी स्थिति दोबारा न आए।

पानी पर क्या बोलीं आतिशी

राजधानी में पानी की किल्लत पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आतिशी ने हरियाणा सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ‘जानबूझकर’ और ‘अवैध रूप से’ राजधानी में पानी की आपूर्ति रोक रही है, जिससे रोजाना की आपूर्ति प्रभावित हो रही है।

आतिशी ने हरियाणा सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में दिए हलफनामे को झूठा बताते हुए कहा कि हरियाणा सरकार झूठ बोल रही है कि वह दिल्ली को पर्याप्त मात्रा में पानी आपूर्ति कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि चुनाव से पहले 23 मई से हरियाणा सरकार ने पानी की मात्रा कम कर दी है।

एलजी ने हरियाणा के सीएम से की बात

दिल्ली में पेयजल संकट पर छिड़ी जुबानी जंग के बीच एलजी वीके सक्सेना ने हरियाणा के सीएम नायब सैनी से बात की है। उन्होंने एक्स पर जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सैनी से बीते सोमवार को बातचीत हुई। उन्होंने दोहराया कि दिल्ली को आवंटित हिस्से के अनुसार पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। गर्मी की लहर के कारण राज्य की अपनी बाधाओं के बावजूद हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

जल संकट पर भाजपा ने सीएम केजरीवाल से मांगा इस्तीफा

छतरपुर विधानसभा क्षेत्र में पानी के भीषण संकट से क्षुब्ध हजारों नागरिकों के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं ने जल बोर्ड कार्यालय पर प्रचंड प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों को दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और दक्षिण दिल्ली से सांसद रामवीर सिंह बिधूड़ी और पूर्व विधायक चौ. ब्रह्म सिंह तंवर ने सम्बोधित किया। भाजपा नेताओं ने जल संकट के लिए आम आदमी पार्टी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की।

इन इलाकों में भारी किल्लत

राजधानी के कई इलाकों में पेयजल संकट बरकरार है। खासतौर पर, स्लम बस्तियों व अनधिकृत कॉलोनियों में पर्याप्त संख्या में टैंकर नहीं पहुंच रहे। पूर्वी दिल्ली की गीता कॉलोनी व आसपास के अन्य इलाकों, दक्षिणी दिल्ली स्थित ओखला फेस-दो व संगम विहार, नई दिल्ली स्थित सभी स्लम बस्तियों और पश्चिमी दिल्ली के गोपाल नगर, विकास नगर, निहाल विहार आदि कॉलोनियों में पेयजल संकट बना हुआ है।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply