भाजपा की जन आक्रोश यात्रा को लेकर पत्रकार वार्ता का आयोजन

9 Min Read

बीकानेर । राजस्थान भारतीय जनता पार्टी द्वारा दिसंबर माह के प्रारंभ में आयोजित होने वाली जन आक्रोश यात्रा की विस्तृत रूपरेखा और तैयारियों की जानकारी के संबंध में बीकानेर जिला भाजपा द्वारा मंगलवार को गांधीनगर स्थित पार्टी के जिला कार्यालय में पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया । पत्रकार वार्ता को नोखा विधायक बिहारीलाल बिश्नोई, शहर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह, देहात जिलाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत ने संबोधित किया । पत्रकार वार्ता में जन आक्रोश यात्रा के पोस्टर और स्टीकर का विमोचन भी किया गया ।

वार्ता के प्रारंभ में जिला मंत्री और मीडिया प्रभारी मनीष आचार्य ने वरिष्ठ पदाधिकारियों और पत्रकारों का स्वागत करते हुए जन आक्रोश यात्रा की प्रस्तावना के बारे में जानकारी दी।

पत्रकारों को संबोधित करते हुए शहर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह ने बीकानेर पूर्व और पश्चिम विधानसभा में जन आक्रोश यात्रा से संबंधित जानकारी देते हुए बताया कि 2 दिसंबर को बीकानेर शहर में जूनागढ़ के आगे से पूरे बीकानेर जिले के लिए जन आक्रोश रथों की रवानगी की जाएगी जिसमें बीकानेर शहर की पूर्व और पश्चिम विधानसभा तथा देहात की 5 विधानसभाओं के रथ  शामिल होंगे । उन्होंने बताया कि 3 दिसम्बर को बीकानेर पूर्व विधानसभा के लिए गांधी पार्क के सामने से तथा पश्चिम विधानसभा के लिए 4 दिसंबर को मुरली मनोहर मंदिर से जन आक्रोश रथ का शुभारम्भ होगा ।

- Advertisement -

बीकानेर पूर्व विधानसभा जन आक्रोश यात्रा का समापन 13 दिसंबर को भीम नगर में तथा पश्चिम विधानसभा जन आक्रोश यात्रा का समापन 14 दिसंबर को मुक्ता प्रसाद नगर में होगा ।  सिंह ने बताया कि जन आक्रोश यात्रा और रैली को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह है तथा यात्रा में प्रत्येक दिन नुक्कड़ सभाओं, चौपाल इत्यादि का आयोजन किया जाएगा। सिंह ने पत्रकार वार्ता के दौरान प्रदेश भाजपा द्वारा जारी मिस कॉल नंबर 8140 200 200 की जानकारी देते हुए कार्यकर्ताओं और आम जनता से अधिक से अधिक इस नंबर पर मिस कॉल कर राज्य सरकार के खिलाफ विरोध दर्ज करवाने का आह्वान किया ।

जिलाध्यक्ष सिंह ने बीकानेर शहर की प्रमुख समस्याओं को सामने रखते हुए राज्य सरकार के वरिष्ठ मंत्री डॉ. बीडी कल्ला द्वारा पूर्व और पश्चिम विधानसभा क्षेत्रों के विकास कार्यों में भेदभाव का आरोप लगाया । उन्होंने बीकानेर शहर में रेलवे फाटकों की समस्या, नाल सिविल एयरपोर्ट के विस्तार हेतु निशुल्क भूमि आवंटन, प्रशासन शहरों के संग अभियान के अंतर्गत पट्टे नहीं मिलने, कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट होने, यूआईटी पीडब्ल्यूडी और नगर निगम द्वारा शहर के विकास को ठप्प करने, पश्चिम क्षेत्र में राजकीय कन्या महाविद्यालय खोलने, बहुप्रचारित महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूलों को फिर से बंद करने, बिना किसी नीति के राजनीतिक हस्तक्षेप के साथ तबादला उद्योग द्वारा स्थानांतरण करने, मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना और निरोगी राजस्थान योजना में साधारण दवाइयों की उपलब्धता भी नहीं होने, सुपर स्पेशलिटी सेंटर को वृहद रूप में आरंभ नहीं करने, केंद्र की योजनाओं को लटकाने, निजी बिजली कंपनी द्वारा आम जनता को लूटने और विजिलेंस के नाम पर भय फैलाने, युवाओं में बढ़ रहे नशे की प्रवृत्ति की रोकथाम में विफल रहने, गोचर और अन्य भूमि पर भूमाफिया द्वारा मंत्रियों की शह पर लगातार कब्जे होने तथा संविदा कर्मचारियों को धोखा देने की बात कही ।

देहात जिलाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता जन आक्रोश यात्रा के माध्यम बड़े उत्साह से आमजन को साथ लेकर गांव-गांव और ढाणी तक पहुंचेंगे तथा राज्य सरकार के कुशासन के बारे में जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि एक और राज्य सरकार जहां 4 वर्ष पूर्ण होने का झूठा जश्न मनाएगी वही जिम्मेदार विपक्ष होने के नाते भाजपा सरकार की विफल नीतियों और नाकामियों को जनता के बीच लेकर जाएगी ।

पत्रकारों को संबोधित करते हुए नोखा विधायक बिहारीलाल बिश्नोई ने अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को जंगलराज, भ्रष्टाचार और कुशासन वाली सरकार बताया । उन्होंने कहा कि लोकलुभावन और झूठे वादे कर 1% से भी कम मतों के अंतर से बनी यह धोखेबाज सरकार अपने 4 वर्षों में केवल अंतर्विरोध और अंतर्कलह तथा कुर्सी की छीना झपटी में  होटलों और बाड़ाबंदी में ही व्यस्त रही। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को किसान, दलित, महिला, बेरोजगार और युवाओं सहित किसी भी वर्ग के लिए कोई संवेदना नहीं है । उन्होंने कहा कि इस सरकार ने राज्य को विकास की बजाय विनाश की ओर ले जाने, भ्रष्टाचार के नए कीर्तिमान स्थापित करने तथा प्रदेश को बेरोजगारी, महिला अत्याचार, दलित अत्याचार, दुष्कर्म, अपराध, महंगी बिजली, महंगे पेट्रोल डीजल में नंबर एक पर ले जाने का कार्य किया है।  उन्होंने कहा कि जन आक्रोश यात्रा के माध्यम से गांव की चौपाल से शहर, शहर से जिले तथा जिले से प्रदेश स्तर तक प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन को मुखर किया जाएगा।

विधायक विश्नोई ने सरकार द्वारा किसानों के साथ ऋण माफी के नाम पर धोखा करने तथा सिंचाई पानी की उचित आपूर्ति नहीं देने आरोप लगाया और साथ ही कहा कि सरकार की अकर्मण्यता और गलत नीतियों के कारण केंद्र सरकार से 61 लाख इंजेक्शन मिलने के बाद भी लम्पी रोग से ग्रसित गोवंश का इलाज नहीं शुरू किया गया जिससे बीकानेर गंगानगर हनुमानगढ़ जिलों में लाखों की संख्या में गोवंश निर्ममता से कालग्रस्त हो गया।

यूरिया और डीएपी की आपूर्ति विषय पर विधायक विश्नोई ने  कहा कि पिछली छः फसलों में केंद्र सरकार द्वारा लगातार राज्य को मांग से 10-15% ज्यादा ज्यादा आपूर्ति की जा रही है लेकिन कालाबाजारी और सरकार के निकम्मेपन की वजह से इसका लाभ नहीं मिल पा रहा।

उन्होंने कहा कि राज्य के पुलिस थानों में पोस्टिंग के लिए खुलेआम नीलामी का गोरखधंधा चल रहा है और अपराधियों को पकड़ने के बावजूद भी राजनीतिक दबाव के कारण किसी भी प्रकार की बरामदगी नहीं हो रही है। पुलिस का इकबाल खत्म हो चुका है और जनता का पुलिस पर से विश्वास समाप्त हो गया है।

विश्नोई ने कहा कि सभी 200 विधानसभाओं में कांग्रेस के विधायक और विधायक प्रत्याशी मिनी मुख्यमंत्री के रूप में कार्य कर रहे हैं। ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की रिपोर्ट के आधार पर प्रदेश भ्रष्टाचार में एक नंबर पर है। सरकार वीक है इसलिए पेपर लीक होने से लाखों युवा और उनके परिजनों के साथ धोखा हो रहा है और सरकार के नुमाइंदे और बड़े चेहरे ही इस पेपर लीक काण्ड में शामिल हैं।  उन्होंने राज्य सरकार पर सीधे-सीधे तुष्टिकरण की इंतेहा करते हुए हिंदू विरोध की ओर  चलने की बात भी कही। शिक्षा संबल योजना को बंद करने, स्कूलों में हड़ताल तालाबंदी इत्यादि विषयों को रखते हुए विश्नोई ने केंद्र सरकार की दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना को लटकाने, इस योजना में केंद्र सरकार द्वारा दिए गए 1000 करोड़ रुपए के फंड को सात माह का समय बर्बाद कर लैप्स करने, राज्य सरकार द्वारा घरेलू बिजली कनेक्शन की योजना लागू नहीं करने और जल जीवन मिशन योजना को भी लटकाने का आरोप लगाया।

विधायक बिहारीलाल विश्नोई ने कहा कि जन आक्रोश यात्रा के द्वारा भाजपा कार्यकर्ता राज्य सरकार की नाकामियों और विफलताओं को आमजन तक पंहुचाएंगे।

मंगलवार को आयोजित इस पत्रकार वार्ता में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य, पूर्व देहात अध्यक्ष जालम सिंह भाटी, राष्ट्रीय परिषद सदस्य विजय आचार्य, जिला महामंत्री अनिल शुक्ला, जिला उपाध्यक्ष गोकुल जोशी, सवाई सिंह तंवर, शहर जिला मंत्री और मीडिया प्रभारी मनीष आचार्य, देहात जिला मंत्री और मीडिया प्रभारी देवीलाल मेघवाल, बीकानेर पूर्व विधानसभा जन आक्रोश यात्रा संयोजक डॉ. सिद्धार्थ असवाल, बीकानेर पश्चिम विधानसभा जन आक्रोश यात्रा संयोजक वेद व्यास, संभाग मीडिया संयोजक मुकेश आचार्य इत्यादि पदाधिकारी उपस्थित रहे

Share This Article