Pushkarna Sawa 2024 : श्रीराम मंदिर परिवार ने कन्याओं को भेंट की अलमारियां

3 Min Read
Pushkarna Sawa 2024

Pushkarna Sawa 2024

बीकानेर। जस्सूसर गेट बाहर एमएम ग्राउण्ड के समीप स्थित श्रीराम मंदिर परिवार द्वारा बुधवार को पुष्करणा सावे में परिणय सूत्र में बंध रही 109 कन्याओं को अलमारी के रूप में उपहार प्रदान किया गया। इस मौके पर परिवार की ओर से महिलाओं ने कार्यक्रम में शामिल हुई कन्याओं के तिलक कर, पुष्प माला पहनाकर उनका पूजन अभिनंदन किया।

इस अवसर पर अतिथि के रूप में शामिल हुए पंडित रामेश्वरानंद महाराज ने श्रीराम मंदिर परिवार के इस कदम की सराहना की। साथ ही उन्होंने कन्याओं से भारतीय, खासकर राजस्थानी संस्कृति को हमेशा अपनाने की सीख भी दी।

Pushkarna Sawa 2024

उन्होंने कहा कि यह बीकानेर ही है जहां इस तरह के भामाशाह है जो सेवा के कार्य में लगातार जुटे रहते हैं। रामेश्वरानंद महाराज ने पुष्करणा समाज से आह्वान किया कि जो तिथि विद्वान पंडितों ने निर्धारित की है, उसी दिन पुष्करणा समाज का एक तरह से यह महाकुंभ होता है,  इसी दिन समाज के सभी लोगों को अपने पुत्र-पुत्रियों का विवाह करना चाहिए। ताकि इस सावे की गरिमा को चार चांद लग जाए।

- Advertisement -

इसके लिए युवाओं को आगे आना होगा। ताकि वे समाज को एक दिशा में ढाल सके। महाराज ने कहा कि पुष्करणा समाज का यह दो साल से आने वाला सावा अपने आप में प्राचीन संस्कृति का द्योतक है। ऐसी पावन संस्कृति बीकानेर में ही देखने को मिलेगी और कहीं नहीं मिलेगी। उन्होंने विवाह में गणेश परिक्रमा का खास महत्व बताते हुए उस पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम में शामिल हुए पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के विधायक जेठानंद व्यास ने कहा कि श्रीराम मंदिर परिवार के सदस्य धन्यवाद के पात्र है, जो इस तरह के सामाजिक सरोकार के कार्य के लिए हमेशा ही तत्पर रहते हैं।

Pushkarna Sawa 2024
Pushkarna Sawa 2024

Pushkarna Sawa 2024

आज मंदिर परिसर सरीखे पवित्र स्थान पर एक साथ इतनी कन्याओं को उपहार भेंट कर सराहनीय कार्य किया है। आयोजन से जुड़े पवन और नरेश पुरोहित ने बताया कि दिवंगत पिता पन्नालाल जी पुरोहित ने जो परंपरा शुरू की थी, उसको आगे बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं। कार्यक्रम में  कर्मचारी नेता महेश व्यास, श्रीनारायण आचार्य, जयराम पुरोहित, नारायण दास रंगा, गणेश दास आचार्य, बलराम पुरोहित, केपी बिस्सा, राजश्री मोहता, शशिकला आचार्य, सन्तोष मूथा सहित अनेक गणमान्य जन उपस्थित रहे।

Pushkarna Sawa 2024

गौरतलब है कि पन्नालाल पुरोहित 1990 में इस राम मंदिर की स्थापना कराई उसके बाद से ही हर बार पुष्करणा सावे में इस तरह के सेवा कार्य से जुड़े है। मंच का संचालन मेघराज मूथा ने किया।

Share This Article