रेलवे ने बंद किए सभी इमरजेंसी नंबर, अब सिर्फ एक ही नंबर पर दर्ज हाेगी शिकायत,

रेलवे ने बंद किए सभी इमरजेंसी नंबर, अब सिर्फ एक ही नंबर पर दर्ज हाेगी शिकायत,  रेलवे ने बंद किए सभी इमरजेंसी नंबर, अब सिर्फ एक ही नंबर पर दर्ज हाेगी शिकायत, railway emergency

रेलवे ने बंद किए सभी इमरजेंसी नंबर, अब सिर्फ एक ही नंबर पर दर्ज हाेगी शिकायत, mr bika fb post

भारतीय रेवले (Indian Railways) ने यात्रियाें की सुविधा में इजाफा करते हुए अपने तमाम इमरजेंसी नंबराें (Emergency number) काे बंद कर दिया है. अब आप साेचेंगे कि इसमें सुविधा की क्या बात है बल्कि यह ताे दिक्कत भरी खबर है ताे ऐसा नहीं है. दरअसल, भारतीय रेलवे ने अब सिर्फ एक नंबर ही सारी शिकायताें, सुझावाें व दिक्कताें के लिए कर दिया है. अब आपकाे सिर्फ एक ही नंबर हमेशा याद रखना हाेगा चाहे परेशानी काेई भी हाे. रेलवे उस एक नंबर से ही आपकी दिक्कताें काे दूर कर देगा. 

रेलवे ने बंद किए सभी इमरजेंसी नंबर, अब सिर्फ एक ही नंबर पर दर्ज हाेगी शिकायत, prachina in article 1

अब हाेगा सिर्फ एक नंबर वाे है 139
रेलवे मंत्रालय ने ट्वीट कर बताया है कि किसी भी पूछताछ, शिकायत या मदद के लिए अब एक ही हेल्पलाइन नंबर 139 हाेगा. इस पर लाेग अपनी शंका या दिक्कताें का समाधान तलाश सकते हैं. रेलवे ने ऐसा इसलिए किया है, जिससे लाेगाें काे नंबर याद करने में आसानी हाे जाए. वहीं, एक ही प्लेटफॉर्म पर सबकुछ हाे सके. रेलवे का यह भी कहना है कि इसके अलावा अब शायद ही भविष्य में काेई नया नंबर जारी किया जाए.

ये सब हाेगा 139 नंबर से
यात्रियाें के मन में सवाल हाेगा कि आखिर रेलवे मंत्रालय द्वारा जारी किया गया नंबर 139 में उन्हें क्या-क्या सुविधाएं मिलेगी. ताे इसका जवाब भी रेलवे ने दिया है. रेलवे के अनुसार हेल्पलाइन नंबर 139 में यात्री Passenger Name Record यानि पीएनआरट्रेन की स्थितिट्रेन की आवाजाही के समय काे SMS भेजकर पता लगा सकेंगेयही नहीं ट्रेन में सीट माैजूद है या नहींटिकट कैंसल करानाअनबाेर्ड सेवाएं सुविधाएं भी इसी नंबर से मिल सकेगी.

139 में किस नंबर पर काैन सी सुविधा

यदि आप रेलवे की हेल्पलाइन नंबर 139 पर कॉल करते है ताे आपके पास सेवाओं से जुड़े नाै विकल्प एक से नाै नंबर तक सुनाई देंगे. इसमें नंबर एक दबाने पर सुरक्षा और मेडिकल इमरजेंसी, नंबर पर पूछताछः पीएनआरकिराया और टिकट बुकिंग से जुड़ी जानकारी, 3 नंबर पर केटरिंग संबंधी शिकायत करने के लिए, नंबर के जरिए आम शिकायत, 5 नंबर के जरिये सतर्कता और भ्रष्टाचार की शिकायत, 6 नंबर दबाकर ट्रेन दुर्घटना से जुड़ी सूचना मिलेगी, 9 नंबर की मदद से पुराने शिकायत की स्थिति का पता कर सकते है ताे हैश * दबाकर आप कॉल सेंटर अधिकारी से बात कर सकेंगे.

COMMENTS