यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे करें इन सुझावों को लागू

 यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे करें इन सुझावों को लागू

बीकानेर। बीकानेर के रेल यात्रियों के सुविधार्थ एवं बीकानेर को और अधिक रेल सेवाओं से जोड़ने को लेकर जेडआरयूसीसी सदस्य नरेश मित्तल ने महाप्रबंधक उत्तर पश्चिम रेलवे आनंद प्रकाश की अध्यक्षता में बीकानेर जिला उद्योग संघ से वर्चुअल मीटिंग करते हुए अपने सुझाव दिए। इस अवसर पर उपमहाप्रबंधक उत्तर पश्चिम रेल्वे जयपुर शशिकिरण, मुख्य परिचालन प्रबंधक रवींद्र गोयल, मुख्य वाणिज्यक प्रबंधक जी.पी. मीणा, संसद सदस्यगण, डीआरयूसीसी सदस्य द्वारकाप्रसाद पचीसिया तथा विवाद एवं शिकायत निवारण समिति सदस्य रमेश अग्रवाल कालू आदि मीटिंग में शामिल हुए। नरेश मित्तल ने बताया कि गाड़ी संख्या 12455/56 दिल्ली सरायरोहिल्ला-श्रीगंगानगर-बीकानेर प्रतिदिन दोपहर 1.20 बजे बीकानेर पहुंचती हैं । बीकानेर से प्रत्येक मंगलवार व शनिवार को दोपहर 1.40 बजे गाड़ी संख्या 12489/12490 बीकानेर-दादर प्रस्थान करती हैं । इन दोनों गाड़ियों को समायोजित कर एक अतिरिक्त्त रैक की लगातार दिल्ली सरायरोहिल्ला- बीकानेर-मुम्बई बनाया जाए। साथ ही बीकानेर – हावड़ा हेतु दुरन्तो गाड़ी को सप्ताह में 4 दिन की बजाय 5 दिन किया जाए क्योंकि गाड़ी संख्या 12249/12250 युवा एक्सप्रेस हावड़ा-दिल्ली को बंद कर दिया गया है। इस गाड़ी के रेक को दुरन्तो में समायोजित कर दुरन्तो को 5 दिन चलाया जाए। बीकानेर की लाइफ लाइन अति महत्त्वपूर्ण गाड़ी बीकानेर – हावड़ा गाड़ी 3 दिन के लिए चलाई गई है इस गाड़ी को प्रतिदिन चलाया जाए। प्रतिदिन चलने वाली गाड़ी संख्या 12404/12403 जयपुर इलाहाबाद को बीकानेर तक विस्तारित किया जा चुका है, लेकिन इसको अभी तक बीकानेर से चलाया नहीं गया है इसको बीकानेर से चलाने से बीकानेर के आम नागरिकों को धार्मिक यात्रा हेतु मथुरा आना जाना सुलभ हो जाएगा। बीकानेर से दिल्ली के मध्य एक नई इंटरसिटी गाड़ी प्रात: 4 से 5 बजे चलाई जाए ताकि व्यापारी/उद्यमी दिल्ली में अपने व्यापारिक कार्य पूर्ण कर शाम को वापस बीकानेर के लिए रवाना हो सके। बीकानेर से बांद्रा के मध्य वाया चूरू, सीकर, जयपुर कोई भी सीधी ट्रेन नहीं है इन क्षेत्रों के काफी संख्या में यात्रियों, उद्योगपति एवं व्यापारियों का मुंबई आना जाना रहता है इसलिए इस मार्ग पर एक एक्सप्रेस ट्रेन बीकानेर से बांद्रा वाया जयपुर चलाई जाए।

S.N.Acharya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page