राजस्थान में अनलॉक -4 की क्रियान्वयन गाइडलाइंस जारी , जाने क्या होंगे इसके नियम

राजस्थान में अनलॉक -4 की क्रियान्वयन गाइडलाइंस जारी , जाने क्या होंगे इसके नियम  राजस्थान में अनलॉक -4 की क्रियान्वयन गाइडलाइंस जारी , जाने क्या होंगे इसके नियम                    1

जयपुर. राजस्‍थान में बढ़ते कोरोना संक्रमण को पूरी तरह लॉक करने के लिए राज्य के गृह विभाग ने अनलॉक-4 (Unlock-4) के क्रियान्वयन हेतु गाइडलाइन जारी कर दी है. गृह विभाग द्वारा गाइडलाइन जारी करने के बाद अब जिलों के कलेक्टर आदेश जारी करेंगे. गृह विभाग के ग्रुप 9 द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार जयपुर सहित 11 जिलों में जिला मुख्यालयों में सार्वजनिक स्थलों पर धारा 144 लागू कर दी गई है. अब इन जिलों में एक जगह पांच से अधिक व्यक्तियों के इकट्ठा होने पर रोक रहेगी. इसके अलावा 31 अक्टूबर तक किसी भी तरह के धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रम पर भी रोक लगा दी गई है. उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में शनिवार को उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया था. मुख्यमंत्री के निर्णय के बाद रविवार को राज्य के गृह विभाग ने आधिकारिक आदेश जारी कर दिए हैं.

राजस्थान में अनलॉक -4 की क्रियान्वयन गाइडलाइंस जारी , जाने क्या होंगे इसके नियम prachina in article 1

इन शहरों में रहेगी धारा-144
जयपुर, जोधपुर, कोटा,अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, बीकानेर, उदयपुर, सीकर, पाली और नागौर जिला मुख्यालय में धारा 144 रहेगी. एक स्‍थान पर पांच से अधिक लोगों के एक साथ इकट्ठा होने पर प्रतिबंध रहेगा. कलेक्टर इस संबंध में आदेश जारी करेंगे.

बड़े आयोजनों पर रहेगी रोक
शादी समारोह में 50 और अंतिम संस्कार में 20 लोग आ सकेंगे. गृह विभाग के आदेश के अनुसार प्रदेश में किसी भी सामाजिक-धार्मिक आयोजन पर रोक को भी 31 अक्टूबर तक यथावत जारी रखने का निर्णय लिया है. केवल अंतिम संस्कार में 20 और विवाह शादी के आयोजन में 50 व्यक्तियों के शामिल होने की छूट पहले की तरह मिलती रहेगी, लेकिन इसके लिए स्थानीय उपखंड अधिकारी को पूर्व सूचना देनी होगी.
इसके अलावा कोरोना संकट के बीच 21 सितंबर से शुरू होने वाले अनलॉक-4 के लिए राज्य के गृह विभाग ने शनिवार को गाइडलाइन जारी कर दी. 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्र अपनी मर्जी से ही स्कूल जा सकेंगे. इसके लिए उन्हें अभिभावकों से अनुमति लेनी होगी. यह गाइडलाइन 30 सितंबर तक लागू रहेगी. केंद्र सरकार ने राज्यों को 50 फीसदी तक टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ के साथ स्कूल-कॉलेज खोलने की अनुमति दी थी. केंद्र की अनलॉक 4 की गाइडलाइंस में कहा गया है कि 21 सितंबर से 50 फीसदी टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ को वर्किंग के लिए बुलाया जा सकता है. बता दें कि अनलॉक- 4 में सरकार ने लोगों को कई और क्षेत्रों में राहत दी थी.

COMMENTS