कसौटी नाथ महादेव मन्दिर में मधु (शहद) का किया रुद्राभिषेक

कसौटी नाथ महादेव मन्दिर में मधु (शहद) का किया रुद्राभिषेक  कसौटी नाथ महादेव मन्दिर में मधु (शहद) का किया रुद्राभिषेक kasoti nat   madhu and bhaktgan

बीकानेर। सूर्य कॉलोनी नाथ सागर स्थित कसौटी नाथ महादेव मन्दिर में सावन का तीसरा सोमवार को विशेष संयोग बना है। इस दिन सावन का सोवार और नाग पंचमी एक साथ है। यानी कि इस  दिन शुक्ल पक्ष की पांचवीं तिथि भी है। इसलिए सावन का यह तीसरा सोमवार और भी महत्त्वपूर्ण हो गया।
ज्योतिष प्रेम शंकर ने बताया कि इस दिन की गई पूजा अत्यंत लाभकारी होती है।  सावन के सोमवार में भगवान शिव की आराधना करने से महादेव बहुत जल्द प्रसन्न होते हैं। इस बार तीसरे सावन सोमवार के दिन नागपंचमी का शुभ संयोग है। जिस कारण से यह सावन सोमवार खास होता है। इसके आलावा इस दिन शुभ नक्षत्र हस्त नक्षत्र भी है। यह नक्षत्र चंद्रमा का नक्षत्र जाता है। इस दिन पूर्ण तिथि है, सोम का नक्षत्र हस्त भी विद्यमान है और सिद्धि योग के साथ-साथ वर्ष की श्रेष्ठ पंचमी यानी नाग पंचमी भी है। इस कारण से सोमवार को बहुत ही सौभाग्यशाली दिन माना जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ही हस्त नक्षत्र की राशि कन्या मानी जाती है जिसके स्वामी बुध माने जाते हैं।  जिसके कारण यह संयोग बहुत ही सौभाग्यशाली कहा जा सकता है। कला, ज्ञान, विवेक आदि के लिये यह नक्षत्र बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस नक्षत्र के लोग बुद्धिमान होते हैं, एक दूसरे की मदद करते हैं लेकिन किसी भी बारे में फैसला लेने में इन्हें मुश्किल होती है। असमंजस के शिकार होते हैं। व्यवसाय में इनकी ज्यादा दिलचस्पी होती है और अपना काम निकालना जानते हैं। इन्हें हर तरह की सुख-सुविधाएं मिलती हैं और जीवन में भौतिक आनंद हासिल कर लेते हैं।
मनमोहन थानवी ने बताया कि सावन का यह शुभ संयोग भगवान शिव की पूजा करने वाली विवाहित महिलाओं को अच्छा दाम्पत्य सुखी जीवन और अविवाहितों को सुयोग्य वर मिलने के योग बन रहे हैं।
थानवी ने बताया कि सुबह कसोटी नाथ महादेव मन्दिर में मधु (शहद) का रुद्राभिषेक पं. सत्यनारायण किराडू के सान्निध्य में किया गया। रुद्राभिषेक करने में सूर्यप्रकाश, राकेश शर्मा, किशन मोदी,अमित कुमार धारीवाल, मनोजकुमार, आनन्द कुमार, यश, भवानी शंकर (गुड्डसा), श्रीराम, कंवरलाल सेवग, सोनू, भवानीशंकर, मनोज सेवग, गोवर्धन भादाणी, लक्की, रमेश पित्ती, लोकेश सेठिया, गौरीशंकर, अश्विनी कुमार सहित कई भक्तगण मौजूद थे।

Rudrabhishek of Madhu (honey) in Kasauti Nath Mahadev Temple  कसौटी नाथ महादेव मन्दिर में मधु (शहद) का किया रुद्राभिषेक kasoti nat   madhu 650x488

Rudrabhishek of Madhu (honey) in Kasauti Nath Mahadev Temple

COMMENTS

WORDPRESS: 0