रूस-यूक्रेन संकट आपकी जेब पर पड़ेगा असर , पढे खबर

2 Min Read

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध की आंच आपकी जेब तक भी आएगी. रूस-यूक्रेन तनाव के कारण पिछले कुछ दिनों से कच्‍चे तेल की कीमतों में इजाफा हो रहा था और गुरूवार को रूस के यूक्रेन पर हमला करते ही  क्रूड ऑयल की कीमतें 103 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई. पिछले ढाई महीने के भीतर कच्चे तेल के दामों में 27  फीसदी की बढ़ोतरी हो चुकी है.

इन ढाई महीनों में सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल  के दाम नहीं बढ़ाएं हैं. ऐसे में अब उत्‍तर प्रदेश  सहित पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव समाप्‍त होते ही तेल की कीमतों में इजाफा होने की संभावना प्रबल हो गई है. गौरतलब है कि इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल के दाम 103 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गए हैं. इससे पहले 2014 में कच्चे तेल के दाम 100 डॉलर के पार गए थे.

ऐसे हालातों में घरेलू तेल कंपनियां डीजल और पेट्रोल के रेट 15 रुपये लीटर तक बढ़ा सकती हैं. यह हो सकता है कि बढ़ोतरी एक साथ न करके दो-तीन चरणों में की जाए. प्राकृतिक गैस की कीमत भी बढ़ रही है. इसके चलते आने वाले दिनों में LPG और CNG के दाम भी 10 से 15 रुपए तक बढ़ सकते हैं, ऐसा माना जा रहा है.

- Advertisement -

सोने-चांदी की कीमतों में बड़ा उछाल

रूस और यूक्रेन संकट  के बीच गुरुवार को सोने-चांदी के दामों में बड़ा उछाल आया है. भारत में 10 ग्राम सोने की कीमत तकरीबन 1400 रुपये बढ़ गई है. वहीं, एक किलो चांदी की कीमत भी दो हजार रुपये से अधिक बढ़ी है. भारतीय सर्राफा बाजार में आज जारी किए गए सोने-चांदी के रेट्स के अनुसार, 999 प्योरिटी वाला 10 ग्राम सोना 51419 रुपये का हो गया है, जबकि एक किलो चांदी के दाम बढ़कर 66501 रुपये हो गई है.

 

Share This Article