राजस्थानबीकानेर

Sanatan Dharma : संत समाज करेगा प्रदर्शन

Sanatan Dharma :

सनातन धर्म के खिलाफ अभद्र टिप्पणियां सुनने के बाद बीकानेर के संत समाज ने एक आवश्यक मीटिंग सुजानदेसर स्थित रामझरोखा कैलाशधाम में आयोजित की गई। बीकानेर संत समाज के अध्यक्ष श्री सरजूदासजी महाराज ने बताया कि बीते दिनों तमिलनाडू के मुख्यमंत्री के बेटे ने उदयनिधि स्टालिन द्वारा सनातन धर्म को लेकर की गई टिप्पणी से संत समाज आक्रोशित है।

श्रीसरजूदासजी महाराज ने कहा कि इस तरह के बयान केवल राजनैतिक फायदे के लिए-दिए जाते हैं, लेकिन संत समाज यह चेतावनी देता है कि सनातन के खिलाफ बोलने वालों को बख्शा नहीं जाएगा उनके विरुद्ध कानूनी कार्यवाही होगी।

Sanatan Dharma :नवलेश्वर मठ के श्री विलासनाथ जी महाराज ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि गुजरात के स्वामीनारायण मंदिर से संबंधित ऐसे कई वीडियो आए हैं जहां स्वामीनारायण संप्रदाय के स्वामियों ने अपने प्रवचन (उपदेश) के दौरान नाथ सम्प्रदाय के खिलाफ व हिंदू देवताओं के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की है। श्रीविलासनाथजी महाराज ने कहा कि मंगलवार को सुबह 11 बजे कोटगेट पर सनातन धर्म के खिलाफ बोलने वालों का पुतला जलाया जाएगा और जरुरत पड़ी तो ऐसे सनातन धर्मविरोधी टिप्पणी करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी।

संत समाज की इस बैठक में योगी महंत सूरजनाथ, योगी महंत रामनाथ, महंत योगी विलासनाथ योगी ओमनाथ, योगी महंत सुभाषगिरी, प्रहलाददासजी, रामदासजी, शंकरगिरीजी, गिरधारीनाथ, अशोकनाथजी, योगी दीपकनाथजी एवं अमरीन पुरी जी महाराज उपस्थित रहे। गौरतलब है कि तमिलनाडु सीएम एमके स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन ने हाल ही में एक बयान में सनातन धर्म की तुलना डेंगू से करते हुए कहा था कि सनातन का बस विरोध नहीं किया जाना चाहिए, इसे समाप्त ही कर देना चाहिए। ये धर्म सामाजिक न्याय और समानता के खिलाफ है। उन्होंने यह भी कहा कि हम डेंगू, मलेरिया या कोरोना का विरोध नहीं कर सकते, हमें इसे मिटाना है।

What's your reaction?