कोरोना काल मे सेवक बन कर उभरे सत्येन्द्र सिंह राजपुरोहित , किये ये नेक काम

कोरोना काल मे सेवक बन कर उभरे सत्येन्द्र सिंह राजपुरोहित , किये ये नेक काम  कोरोना काल मे सेवक बन कर उभरे सत्येन्द्र सिंह राजपुरोहित , किये ये नेक काम IMG 20200624 WA0004

कोरोना काल मे सेवक बन कर उभरे सत्येन्द्र सिंह राजपुरोहित , किये ये नेक काम mr bika fb post
पूरा विश्व इन दिनों कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है, ऐसे में विश्व के  सभी देशों के हालात खराब नजर आ रहे हैं, ऐसे में प्रत्येक देशवासी अपनी-अपनी भूमिका निभाते हुए इस विकट परिस्थितियों से उबरने में लगे हुए हैं, ऐसे ही राजस्थान राज्य के जोधपुर जिले के युवा सत्येंद्र सिंह राजपुरोहित भी है जो कोरोना काल मे अपने आप में अनूठी मिसाल पेश कर रहे हैं
*कौन है सत्येंद्र सिंह राजपुरोहित*
आपको बता दें सत्येंद्र सिंह राजपुरोहित जोधपुर जिले के छोटे से गांव तिंवरी के रहने वाले हैं जो पत्रकारिता के छात्र है साथ ही पिछले कुछ वर्षों से सामाजिक सरोकार के उद्देश्य से पत्रकारिता व सामाजिक कार्य करते हुए भी नजर आते हैं उन का कहना है कि सामाजिक सरोकार निभाना मुझे अच्छा लगता है और में इसे जीवन भर निभाउंगा।
कोरोना काल मे सेवक बन कर उभरे सत्येन्द्र सिंह राजपुरोहित , किये ये नेक काम IMG 20180625 171218 174 400x400
*शार्ट मूवी बना लोगों को कोरोना महामारी के प्रति  किया जागरूक*
युवा सत्येंद्र सिंह राजपुरोहित द्वारा लोकड़ाऊंन के समय मे  गांवों के लोगो में कोरोना के प्रति जागरूकता लाने हेतु  “मुश्किल दौर है संभल जाओ ना” शीर्षक से  सॉर्ट डॉक्यूमेंट्री बना प्रसारित की गई जिसमें लोगों को कोरोनावायरस के प्रति जागरूकता जैसे सोशल डिस्टेंसिंग ,सैनिटाइजेशन ,घरों में रहने की अपील ,भीड़ भाड़ जैसी जगहों से दूर रहने जैसे कही महत्वपूर्ण संदेश दिए गए । जिसको पाली सांसद पी पी चौधरी ,जय नारायण व्यास विश्वविद्यालय के अध्यक्ष रविंद्र सिंह भाटी ,ओसियाँ पूर्व विधायक एवं संसदीय सचिव रहे भैराराम सियोल सहित कहीं बड़े जनप्रतिनिधियों द्वारा अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से लोगों को जागरूक करने के लिए शेयर किया गया ,व  सत्येंद्र सिंह राजपुरोहित   के प्रयासों की सराहना भी की।
*कोरोना काल मे सैकड़ो अनपढ व गरीब महिलाओं को जागरूक करने का उठाया बीड़ा*
सत्येंद्र सिंह राजपुरोहित ने पाया की सरकार द्वारा विज्ञापन पर खुब पैसे खर्च किये जा रहे है लेकिन गांव में लोगो के घर मे न तो टेलीविजन न वे सोशल मीडिया से जुड़े है ऐसे में सामाजिक सरोकार निभाते हुए सत्येन्द्र सिंह राजपुरोहित गरीब एवं शिक्षित महिलाएं जो अपनी आजीविका के लिए मनरेगा में कार्य करती है ऐसी सैकड़ों महिलाओं को मनरेगा कार्य स्थल पर जाकर युवा स्थानीय भाषा में कोरोनावायरस के प्रति जागरूकता का संदेश दिया गया जिससे क्षेत्र के सभी जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने भी सहारा ना की।

COMMENTS