21 सितंबर से 9वीं से12वीं क्लास के लिए खुलेंगे स्कूल, ये होंगे नियम

21 सितंबर से 9वीं से12वीं क्लास के लिए खुलेंगे स्कूल, ये होंगे नियम  21 सितंबर से 9वीं से12वीं क्लास के लिए खुलेंगे स्कूल, ये होंगे नियम

सरकार की तरफ से अनलॉक-4 के दौरान कई गतिविधियों को चलाने की इजाजत दी गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने 9वीं से लेकर 12वीं क्लास के छात्रों के लिए आंशिक रूप से स्कूल खोलने के लिए मंगलवार को एसओपी (स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर) जारी किया है, ताकि छात्र इस दौरान शिक्षकों से मार्गर्शन कर सकें। इसकी इजाजत 21 सितंबर से दी जाएगी।

21 सितंबर से 9वीं से12वीं क्लास के लिए खुलेंगे स्कूल, ये होंगे नियम prachina in article 1

स्वास्थ्य मंत्रालय ने ट्विटर पर इसकी घोषणा करते हुए कहा, “स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्वैच्छिक आधार पर 9वीं से लेकर 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए आंशिक रूप से स्कूलों को खोलने के लिए एसओपी जारी किया है।” स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी की गई ताजा गाइडलाइन्स के एसओपी में कोविड-19 के खिलाफ कई सुरक्षात्मक कदम उठाए गए हैं। गाइडलाइन्स में मंत्रालय ने कहा, “इन उपायों को सभी को (शिक्षकों, कर्मचारियोंत और छात्रों को) इन सभी जगहों पर देखे जाने की जरूरत है।”

एसओपी में यह कहा गया है कि 9वीं, 12वीं के छात्रों को स्कूल में शिक्षकों से पढ़ाई से संबंधित बात करने के लिए जाने से पहले अपने माता-पिता से लिखित सहमति लेनी होगी। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की तरफ से एसओपी इस प्रकार हैं-

-जहां तक हो सके शारीरिक दूरी कम से कम 6 फीट बनाए रखें।

-आवश्यक तौर पर फेस कवर या मास्क लगाना होगा।

-लगातार साबुन से (40-60 सेकेंड्स तक) हाथ धोते रहें, अगर साफ दिखे तब भी।

-एल्कोहल वाले हैंड सैनेटाइजर का इस्तेमाल करें।

-थूकने पर सख्त मनाही होगी

-आरोग्य सेतू एप को डाउनलोड करने और उसे इस्तेमाल करने की सलाह दी जा सकती है।

-खुद की मॉनिटरिंग करें और बीमार पड़ने पर फौरन उसकी रिपोर्ट करें।

-विद्यार्थियों के बीच नोटबुक, पेन/पेंसिल, पानी की बोतलें आदि साझा करने, प्रार्थना सभा और खेलकूद आयोजित करने की अनुमति नहीं होगी।

-केवल बिना लक्षण वाले छात्रों को ही विद्यालय परिसर में अनुमति।

-दो कुर्सियों, डेस्कों के बीच छह फुट की दूरी हो तथा शिक्षक यह सुनिश्चित करेंगे कि उन्होंने स्वयं और विद्यार्थियों ने मास्क लगा रखा है।

COMMENTS