fbpx

राज्य एवं जिला पर्यावरण योजना बनाएगी सरकार: मुख्यमंत्री

राज्य एवं जिला पर्यावरण योजना बनाएगी सरकार: मुख्यमंत्री bikaner hulchul राज्य एवं जिला पर्यावरण योजना बनाएगी सरकार: मुख्यमंत्री 20200223 171136

जयपुर/बीकानेर, मुख्यमंत्री श्री अषोक गहलोत ने कहा कि विष्नोई समाज के संस्थापक संत श्री गुरू जम्भेष्वरजी ने वन, वन्य जीव एवं पर्यावरण संरक्षण का महान संदेष दिया था। उनके सिद्धांत और नियम आज की सबसे बडी आवष्यकता है। राज्य सरकार प्रदेष में पर्यावरण संरक्षण के लिए ‘राज्य पर्यावरण योजना‘ एवं हर जिले के लिए ‘जिला पर्यावरण योजना‘ बनाएगी। साथ ही वनों की उत्पादकता एवं लघु वन उपज बढ़ाने के लिए ‘राज्य वन विकास निगम‘ की स्थापना करेगी।
मुख्यमंत्री श्री गहलोत रविवार को बीकानेर जिले के मुकाम ग्राम में अखिल भारतीय विष्नोई महासभा के अधिवेषन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर श्री गुरू जम्भेष्वर भगवान विष्नोई तीर्थ स्थल, मुक्ति धाम में पूजा-अर्चना कर प्रदेष की खुषहाली की कामना की।
वन एवं पर्यावरण संरक्षण में विष्नोई समाज का महत्वपूर्ण योगदान
अधिवेषन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छ पर्यावरण के बिना जीवन सम्भव नहीं है। पूरा विष्व आज प्रदूषण की समस्या से चिंतित है। कई शहरों में तो प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ चुका है कि सांस लेना ही मुष्किल है। उन्होंने कहा कि वनों एवं पर्यावरण के संरक्षण में विष्नोई समाज का महत्वपूर्ण योेगदान है। इस समाज की वीरांगना अमृतादेवी ने पेड़ों को बचाने के लिए अपना बलिदान दे दिया। विष्नोई समाज से प्रेरणा लेकर सभी को वनों को बचाने और उनके विस्तार के लिए आगे आना चाहिए।
निरोगी राजस्थान अभियान में निभाएं भागीदारी
श्री गहलोत ने कहा कि गुरू जाम्भोजी ने समाज में फैली कुरीतियों को दूर करने तथा स्वस्थ जीवन शैली के लिए 29 नियम बनाए थे। राज्य सरकार ने भी ‘पहला सुख निरोगी काया‘ के मूलमंत्र को अपनाते हुए प्रदेष के लोगों को स्वस्थ रखने के लिए निरोगी राजस्थान अभियान प्रारम्भ किया है। विष्नोई समाज सहित समस्त प्रदेषवासी इस अभियान को सफल बनाने में अपनी भागीदारी निभाए।bikaner hulchul राज्य एवं जिला पर्यावरण योजना बनाएगी सरकार: मुख्यमंत्री Photo CM 23
25 हजार सौलर पंप लगाएंगे
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने किसान कल्याण की दिषा में कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। किसानों को संबल देने के लिए एक हजार करोड़ रूपए की लागत से किसान कल्याण कोष का गठन किया गया है। सरकार ने किसानों के कर्ज माफ किए हैं। प्रदेष के वर्ष 2020-21 के बजट में दूसरा संकल्प किसान भाइयों के लिए हैैै। सरकार प्रदेष में अगले साल 150 करोड़ रुपए की लागत से 12 हजार 500 फार्म पौण्ड का निर्माण करवाएगी। खेती के लिए 25 हजार सौलर पंप लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार जनहित में इसी तरह लगातार फैसले लेती रहेगी।
वन एवं पर्यावरण राज्यमंत्री श्री सुखराम विष्नोई ने कहा कि मुख्यमंत्री वन एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए समर्पित हैं। बजट में पर्यावरण संरक्षण के लिए बलिदान देने वाली अमृता देवी की स्मृति में खेजड़ली में शहीद स्मारक का निर्माण करने की घोषणा की गई है।
अधिवेषन को विधायक श्री महेन्द्र विष्नोई, श्री बिहारीलाल विष्नोई, श्री किषनाराम विष्नोई, श्री पब्बाराम विष्नोई, अखिल भारतीय विष्नोई महासभा के संरक्षक श्री कुलदीप विष्नोई, अध्यक्ष श्री हीराराम भंवाल एवं हरियाणा के विधायक श्री दुड़ाराम विष्नोई ने भी संबोधित किया।
इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री डाॅ. बीडी कल्ला, उच्च षिक्षा राज्य मंत्री श्री भंवरसिंह भाटी, विधायक श्री गोविन्दराम मेघवाल, पूर्व नेता प्रतिपक्ष श्री रामेष्वर डूडी, मुकाम पीठाधीष्वर स्वामी श्री रामानंदजी आचार्य सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी एवं बड़ी संख्या में विष्नोई समाज के लोग एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे।

COMMENTS

WORDPRESS: 0