आंदोलन में खुदखुशी : संत राम सिंह ने किसान आंदोलन के समर्थन में खुदकुशी की

आंदोलन में खुदखुशी : संत राम सिंह ने किसान आंदोलन के समर्थन में खुदकुशी की  आंदोलन में खुदखुशी : संत राम सिंह ने किसान आंदोलन के समर्थन में खुदकुशी की hfhg

आंदोलन में खुदखुशी : संत राम सिंह ने किसान आंदोलन के समर्थन में खुदकुशी की mr bika fb post

नए कृषि कानून के खिलाफ चल रहे किसानों के आंदोलन मेंं दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर (सिंघु बार्डर) पर किसानों के हक में आवाज उठाने सामने आए संत बाबा राम सिंह (Sant Baba Ram Singh) ने बुधवार को खुदकुशी (Suicide) कर ली है. बाबा राम सिंह ने खुद को गोली मार ली, जिससे उनकी मौत हो गई है. जानकारी के मुताबिक, बाबा राम सिंह को घायल हालत में एक निजी अस्पताल भी ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

आंदोलन में खुदखुशी : संत राम सिंह ने किसान आंदोलन के समर्थन में खुदकुशी की prachina in article 1

जानकारी के मुताबिक, संत बाबा राम सिंह हरियाणा के करनाल के रहने वाले थे. एक ट्विटर यूजर ने बाबा द्वारा लिखा एक सुसाइड नोट भी पोस्ट दिया है. दावा किया जा रहा है कि इस सुसाइड नोट में उन्होंने किसान आंदोलन और किसानो के हक के लिए आवाज बुंलद करने का जिक्र किया है.

आंदोलन में खुदखुशी : संत राम सिंह ने किसान आंदोलन के समर्थन में खुदकुशी की letter02 1608128841 400x573

दिल्ली पुलिस ने बंद किया बॉर्डर

इधर, एहतियात के तौर पर दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने टिकरी, धनसा बॉर्डर  को किसी भी तरह के ट्रैफिक मूवमेंट के लिए बंद कर दिया है. पुलिस ने झटीकरा बॉर्डर को केवल दोपहिया और पैदल यात्रियों के लिए खुला रखा है. वहीं खबर है कि प्रदर्शनकारी किसानों ने एक बार फिर से नोएडा को दिल्ली से जोड़ने वाली चिल्‍ला सीमा को जाम कर दिया है. इससे नोएडा लिंक रोड बंद हो गया है. वहीं, गाड़ियों की आवाजाही को रोक दिया गया है. बड़ी संख्या में किसान एक बार फिर से ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ चिल्ला बॉर्डर पर पहुंच गए हैं.

COMMENTS