बीकानेरराजस्थान

फक्कड़दाता से हुआ शहर में रम्मतों का श्रीगणेश

बीकानेर। शहर में गुरुवार रात को नत्थूस गेट के अंदर फक्कड़दाता रम्मत का मंचन हुआ। इसके साथ ही होली पर आयोजित होने वाली रम्मतों का श्रीगणेश हो गया। अब पूरे सप्ताहभर कहीं रम्मतें, फाग उत्सव, चंग धमाल सहित कई कार्यक्रम होंगे। गुरुवार रात को नत्थूसर गेट के अंदर फक्कड़दाता की रम्मत के अखाड़े में सबसे पहले भगवान गणेश का पदार्पण हुआ। इसके बाद खाखी आया, फिर बोहरा-बोहरी और जाट-जाटनी ने जमाने की बातें की। इसके बाद स्वांग मेहरी का रूप धरे कलाकारों ने वर्तमान हालात, खासकर मंहगाई, बेरोजगारी पर व्यंग्य बाण चलाए। कलकारों ने शब्दों के तीर चलाते हुए हालातों का बखान किया। रम्मत के चौमासा गीतों का लोगों ने जमकर लुत्फ उठाया। इस दौरान रम्मत के मंच पर सेनानिवृत न्यायाधीश नृसिंह व्यास का सम्मान किया गया। पंडि़त जुगल किशोर ओझा के सान्निध्य में व्यास को सम्मान पत्र प्रदान किया गया।

लोगों का रहा जमावड़ा..
रम्मत देखने के लिए भारी संख्या में लोग नत्थूसर गेट के अंदर पहुंचे। मंच की दोनों तरफ लोगों का जमावड़ा रहा। वहीं नगाड़ों की धुनों पर थिरकते कलाकरों ने जमकर मनोरंजन किया। रम्मत देखने के लिए घरों की छतों पर महिलाओं और बच्चों की भीड़ रही। तो सड़क पर दूर तक खाने-पीने, खिलौनों इत्यादि की अस्थायी दुकानों पर लोगों की भीड़ रही।
इन्होंने निभाई भागीदारी…
रम्मत में पंडित जुगल किशोर ओझा, मदन मास्टर(जैरी), कैलाश पुरोहित, कन्हैयालाल रंगा, सावन कुमार, सुंदर लाल पुरोहित सहित कलाकारों ने गायन, वादन में भागीदारी निभाई।

News – ramesh bissa

What's your reaction?