बूढ़ा दिखाने वाला फेस ऐप इस्तेमाल कर तो रहे हो, ये जानते हो?

बूढ़ा दिखाने वाला फेस ऐप इस्तेमाल कर तो रहे हो, ये जानते हो?  बूढ़ा दिखाने वाला फेस ऐप इस्तेमाल कर तो रहे हो, ये जानते हो? faceapp 1154480

नई दिल्ली
आजकल वायरल हो रहे FaceApp और उससे जुड़े यूजर्स की प्रिवेसी को लेकर काफी चर्चा हो रही है। बीते दो-चार दिनों में कई ऐसी खबरें आई हैं जिनमें दावा किया है कि आर्टिफीशल इंटेलिजेंस पर काम करने वाले इस ऐप की प्रिवेसी पॉलिसी सही नहीं है और इससे यूजर्स की सिक्यॉरिटी और प्रिवेसी को खतरा हो सकता है। बताया जा रहा है कि फेसऐप यूजर्स के डेटा को थर्ड पार्टी के साथ शेयर कर सकता है। हालांकि फेसऐप ने इस खबर को खंडन करते हुए कहा था कि उसके सर्वर से यूजर्स के फोटो 48 घंटे बाद ऑटोमैटिकली डिलीट हो जाते हैं।

नियम व शर्तें हैं शक के घेरे में
इस ऐप को लेकर विवाद उस वक्त शुरू हुआ जब कुछ ऐंड्रॉयड और आईओएस यूजर्स ने ऐप में दिए गए उस शर्त पर गौर किया जिसमें लिखा था कि फेसऐप यूजर्स द्वारा उसके प्लैटफॉर्म पर अपलोड की गई फोटो कहीं भी इस्तेमाल कर सकता है।

प्रिवेसी पर नहीं दिया गया ध्यान

इस बारे में सायबर लॉयर अशीता ने कहा कि अब तक ऐसे कोई सबूत नहीं मिले हैं जिससे यह पता चलता हो कि फेसऐप ने यूजर्स के डेटा का गलत इस्तेमाल किया है। वह आगे कहती हैं, ‘ऐप को लेकर अभी केवल कयास लगाए जा रहे हैं। जहां तक बात ऐप के प्रिवेसी पॉलिसी की है तो इसे खराब कानूनी सलाह और ड्राफ्ट का नतीजा माना जा सकता है जहां कंपनी ने प्रिवेसी पर ध्यान नहीं दिया। साथ ही ऐप के टर्म्स और कंडीशन के मुताबिक यह यूजर के डेटा को दुनिया में कहीं में लगातार इस्तेमाल करने का लाइसेंस लेता है तो इसमें कोई नई बात नहीं है। बहुत सी कंपनियां ऐसा करती हैं। हालांकि यह जरूर है कि दूसरी कंपनियों के लाइसेंस यूजर के अकाउंट डिलीट करने के साथ खत्म हो जाते हैं लेकिन फेसऐप में फिलहाल ऐसा कुछ नहीं लिखा है।’

कई जगह इस्तेमाल हो सकता है यूजर्स का डेटा

इसके साथ ही अशीता ने कहा, ‘कंपनी की विवादास्पद लाइसेंसिंग पॉलिसी फेसऐप को यूजर्स के कॉन्टेंट और नाम को ऐडवर्टाइजमेंट और दूसरी जगहों पर इस्तेमाल करने की इजाजत देता है जो कि चिंता की विषय हो सकता है। इंस्टाग्राम भी अपने प्लैटफॉर्म के कॉन्टेंट को इस्तेमाल कर सकता है और वहीं किसी को कुछ अजीब नहीं लगता। लेकिन फेसऐप के मामले में यूजर्स के नाम, यूजरनेम, प्रोफाइल पिक्चर और कॉन्टेंट का इस्तेमाल किया जाना शक पैदा करता है।’

तेजी से हो रहा वायरल

फेसऐप के रूसी मोबाइल ऐप है जो यूजर्स को चेहरे को डिजिटली बदल देता है। इसमें यूजर्स यह भी देख सकते हैं कि बुजुर्ग होने पर वे कैसे दिख सकते हैं। इसके साथ ही यह ऐप और भी कई फिल्टर उपलब्ध कराता है जिसमें चेहरे पर दाढ़ी लगाने के साथ ही पुरूष के चेहरे को महिला का भी लुक दिया जा सकता है। ऐप में मौजूद कई फिल्टर्स में इन दिनों ‘ओल्ड एज’ वाला फिल्टर ज्यादा वायरल हो रहा है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0