बीकानेर

विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर हजारों ने ली तंबाकू उत्पादों का उपयोग नहीं करने की शपथ

बीकानेर। विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर मंगलवार को जिले के सरकारी कार्मिकों, स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों और आमजन ने तंबाकू उत्पादों का उपयोग नहीं करने की शपथ ली। मुख्य कार्यक्रम पब्लिक पार्क परिसर में हुआ। जहां संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के.पवन ने शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि तंबाकू उत्पादों का उपयोग मानव शरीर के लिए बेहद घातक है। इसके मद्देनजर हमें इनका उपयोग नहीं बिल्कुल भी करना चाहिए तथा दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि संभाग के चारों जिलों में मिशन अगेंस्ट नारकोटिक सब्सटेंस एब्यूज (मनसा) के तहत 14 फरवरी से नशा मुक्ति का सघन अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत गांव-गांव और शहरों में जागरूकता की गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि समाज को नशे के दंश से मुक्ति दिलाना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है।

जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने कहा कि ओरल कैंसर के नब्बे प्रतिशत मामले तंबाकू उत्पादों के कारण होना पाया गया है। यह उत्पाद पर्यावरण को भी नुकसान पहुंचाते हैं। साथ ही परिवार और समाज को इससे बड़ी हानि होती है। इसे ध्यान में रखते हुए हमें तंबाकू सहित अन्य नशों से दूर रहने तथा नशा करने वालों को रोकने और टोकने की शपथ लेनी होगी। उन्होंने बताया कि मनसा के तहत जिले में भी गतिविधियों का नियमित संचालन किया जा रहा है। इस दौरान 234 लोगों को नशे की प्रवृत्ति छुड़ाई गई है।
इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ओम प्रकाश, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) पंकज शर्मा, नगर विकास न्यास सचिव नरेंद्र सिंह राजपुरोहित, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) अमित कुमार, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. लोकेश गुप्ता सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, नर्सिंग स्टूडेंट, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के प्रतिनिधि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन संजय पुरोहित ने किया।

What's your reaction?