उदयपुर हत्याकांड : अलर्ट पर पूरा राजस्थान, धारा 144 के साथ इंटरनेट बंद

4 Min Read

राजस्थान के उदयपुर में सरेआम शख्स की हत्या करने के बाद उपजे तनाव के बाद शहर के सात थाना क्षेत्रों में रात आठ बजे से आगामी आदेश तक कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. वहीं, पूरे राजस्थान में धारा 144 भी लागू कर गी गई. शहर की सड़कों पर 600 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है. हिंसा और विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए शहर में मोबाइल इंटरनेट सेवा को भी बंद कर दिया गया है. पुलिस प्रशासन ने घटना के बाद पूरे राजस्थान में अलर्ट जारी किया है. राज्य के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर हवा सिंह घुमरिया ने बताया है कि रेंज पुलिस महानिरीक्षक और पुलिस अधीक्षक को एहतियात के तौर पर गश्त बढ़ाने और गतिशीलता बढाने के लिये कहा गया है. जिन सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लागू किया गया है, वह धानमंडी, घंटाघर, हाथीपोल, अंबामाता सूरजपोल, भूपालपुरा और सवीना हैं. आदेशानुसार मंगलवार रात आठ बजे कर्फ्यू प्रभाव में आ गया है. स्थिति पर नजर बनाये रखने के लिये दो अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, एक पुलिस उपमहानिरीक्षक, एक पुलिस अधीक्षक, राजस्थान पुलिस सेवा के 30 अधिकारियों, पांच आरएसी की कंपनियों समेत 600 अन्य पुलिसकर्मियों को उदयपुर भेजा गया है. उदयपुर के एसपी मनोज कुमार ने कहा कि कानून व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में है. कुछ लोग गलियों से बाहर निकलने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन काबू पा लिया गया है. 600 की संख्या में पुलिस फोर्स उदयपुर में तैनात घटना के बाद राज्य के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर हवा सिंह घुमरिया ने कहा, ''ये जनमानस को उद्वेलित करने वाली घटना है. वीडियो वायरल होने से मामले और ज्यादा संवेदनशील हो गया है. अधिकारियों के साथ-साथ करीब 600 की संख्या में पुलिस फोर्स वहां भेजी गई है, रात तक कुछ और फोर्स भी भेजी जाएगी. उन्होंने कहा कि उदयपुर में मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है और स्थिति का आकलन किया जा रहा है. उन्होंने लोगो से वीडियो को वायरल नहीं करने की अपील की है

उदयपुर के अलावा जयपुर संभाग में भी कर्फ्यू लगा दिया गया है। आदेश के तहत अगले 24 घंटे तक उदयपुर, अलवर, दौसा, जयपुर, झुंझुनू और सीकर में इंटरनेट सेवा बंद रहेगी। हालांकि, आशंका है कि इसे आगे भी बढ़ाया जा सकता है। उधर, पुलिस का कहना है कि हत्या में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। एक का नाम गोस मोहम्मद पुत्र रफीक मोहम्मद और दूसरे का नाम रियाज पुत्र अब्दुल जब्बार बताया जा रहा है। दोनों ही आरोपी उदयपुर के सूरजपोल क्षेत्र के रहने वाले हैं।
सीएम बोले- कठोर कार्रवाई की जाएगी, शांति बनाए रखे 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से शांति की अपील की है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा- ‘उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं। इस घटना में शामिल सभी अपराधियों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी। मैं सभी पक्षों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। मैं सभी से अपील करता हूं कि इस घटना का वीडियो शेयर कर माहौल खराब करने का प्रयास न करें। वीडियो शेयर करने से अपराधी का समाज में घृणा फैलाने का उद्देश्य सफल होगा।
Share This Article