उजियारा पंचायत बनाई जायेगी – गौतम

उजियारा पंचायत बनाई जायेगी – गौतम bikaner उजियारा पंचायत बनाई जायेगी – गौतम 20191111 162633

इन पंचायतों की स्कूलों को आवश्यक संसाधन उपलब्ध होंगे                                                                                                                                                                          बीकानेर,  जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि जिले की प्रत्येक पंचायत समिति की 20-20 ग्राम पंचायत को उजियारा पंचायत बनाई जायेगी। इन पंचायतों की स्कूलों में कोई भी विद्यार्थी ड्रोपआउट ना हो और इनमें आवश्यक संसाधन उपलब्ध सुनिश्चित किए जायेंगे।
कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार को हुई बैठक में गौतम ने कहा कि जिन स्कूलों की चारदीवारी नहीं है, उनके प्रस्ताव जिला शिक्षा अधिकारी जिला परिषद को भिजवाएं। उन्होंने कहा कि अब मनरेगा को विद्यालयों की ओर ले जाना होगा। सभी स्कूलों में खेल मैदान विकसित किए जाए। इनमें वाॅलीबाल, फुटबाल, बास्केट बाल व कब्बडी के मैदान तैयार किए जाए। इन सभी के प्रस्ताव शीघ्र ही उपलब्ध कराएं ताकि मनरेगा में स्वीकृतियां जारी की जा सके।
महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने विभाग की कार्यप्रणाली पर असंतोष जताया। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केन्द्रों की माॅनटिरिंग के दौरान इनमें ना तो बच्चे मिले और ना ही पोषाहार और खिलौने पाये गये। उन्होंने कहा कि विशेषकर लूणकरनसर व खाजूवाला के आगंनबाड़ी केन्द्रों में बहुत सी अनियमियतता पाई गई है। उन्होंने कहा कि अनियमियतता वाले आंगनबाड़ी केन्द्रों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करवाई जायेगी।
जिला कलक्टर ने निगम आयुक्त से कहा कि शहर में बिना अनुमति के चल रहे विवाह स्थलों को सीज किया जाए। सीज के दौरान अगर कोई विरोध करता है तो उसके खिलाफ राजकार्य में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज करवाएं। उन्होंने पानी-बिजली और सार्वजनिक निर्माण विभाग से जुड़ी शिकायतों को प्राथमिकता से निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में डेंगू, मलेरिया और मौसमी रोगों के बारे में जानकारी ली और कहा कि जहां से भी इनकी रिपोर्ट मिले, तुरन्त कार्यवाही की जाए। उन्होंने रसद विभाग को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को उनकी आवश्यकता के अनुसार केरोसित सुलभ कराने के निर्देश दिए। उन्होंने आयुर्वेद विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि पब्लिक पार्क में आमजन को योगा करवाने के लिए काम करें। रोस्टर वाइज योग गुरू लगाए। साथ ही आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति का लोगों को ज्ञान दिया जाए। उन्होंने कहा कि स्वाईन फ्लू की रोकथाम के लिए आयुर्वेद विभाग काढ़ा तैयार करवाकर, अपने चिकित्सालयों में लोगों को पिलाए।
जिला कलक्टर ने टिड्डी से खराब हुई फसल के बारे में निर्देश दिए कि कृषि विभाग अपने कृषि पर्यवेक्षकांे से जानकारी जुटाकर, किसानों को बीमा कम्पनी से क्लेम दिलाये। इसके लिए कृषि पर्यवक्षकों की मीटिंग लेकर, उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करे। उन्होंने टिड्डी विभाग के अधिकारी से जिले में टिड्डी पर नियंत्रण के बारे में जानकारी ली और निर्देश दिए कि विभाग टिड्डी का नाश करने के लिए दलों की संख्या में बढ़ोतरी करें। साथ ही किसानों को स्वयं अनुदान पर कीटनाशक क्रय करने के लिए प्रेरित करें।
गौतम ने बीकानेर शहर में उपभोक्ताओं के बिजली के अधिक बिल आने की शिकायत मिलने पर कहा कि बी.के.सी.एल. कम्पनी के अधिकारी बिजली के बिल कैसे कम आए, इसके बारे में अपने उपभोक्ताओं को सुझाव दे। इसके लिए उन्होंने कहा कि कम्पनी कुछ राशि लेकर, उपभोक्ताओं को सेवा दे सकती है। कम्पनी इसके लिए इलेक्ट्री आॅडिट भी करवा सकती है। साथ ही बिजली बचाने के लिए उपभोक्ताओं के बिजली बिल के पीछे इसकी जानकारी दी जाए।
बैठक में नगर निगम आयुक्त डाॅ. प्रदीप के. गवांडे सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

COMMENTS

WORDPRESS: 0