fbpx

नौकरी का झांसा दे 3500 युवाओं से करोड़ों रुपये ठगने वाले शातिर गिरफ्तार

नौकरी का झांसा दे 3500 युवाओं से करोड़ों रुपये ठगने वाले शातिर गिरफ्तार mr bika fb post

 लखनऊ (Local News) | महानगर के बादशाहनगर में मेट्रो सिटी सिक्योरिटी सर्विसेज नाम से कंपनी खोलकर करोड़ों रुपये ठगने के आरोपी ठाकुरगंज निवासी पंकज यादव और मड़ियांव के राजकुमार उर्फ राजू पासवान को एसटीएफ ने गुरुवार रात गिरफ्तार कर लिया। दोनों पर करीब 3500 युवाओं को नौकरी का झांसा देकर रुपये ऐंठने का आरोप है। बीते दिनों ठगी के शिकार 20-25 युवाओं की शिकायत पर एसटीएफ ने यह कार्रवाई की। ठगों के पास से लैपटॉप, प्रिंटर, मेट्रो सिटी सिक्योरिटी सर्विसेज के 55 पहचान पत्र, बेरोजगारों के नाम व मोबाइल नंबर लिखे 10 रजिस्टर, 2200 युवाओं के बायोडाटा समेत कई दस्तावेज जब्त किए गए हैं। ठगों के खिलाफ महानगर कोतवाली में केस दर्ज कराया गया है।

नौकरी का झांसा दे 3500 युवाओं से करोड़ों रुपये ठगने वाले शातिर गिरफ्तार prachina in article 1

एसटीएफ के एएसपी विशाल विक्रम सिंह ने बताया कि मेट्रो सिटी सिक्योरिटी सर्विसेज कंपनी का दफ्तर बादशाहनगर मेट्रो स्टेशन के पास स्थित यश सिल्वर हाइट्स के फ्लैट नंबर 203 में चल रहा था। कंपनी संचालक पंकज मूलरूप से अंबेडकरनगर के जलालपुर का रहने वाला है और राजधानी के ठाकुरगंज के मुफ्तीगंज में रह रहा था। राजकुमार उर्फ राजू पासवान कुशीनगर के हनुमानगंज दरगौली का रहने वाला है है और यहां मड़ियांव के भिठौली चौराहा रायपुर में रह रहा था।

दोनों ठगों ने मेट्रो सिटी सिक्योरिटी डॉट इन नाम से वेबसाइट बनाई थी। इस वेबसाइट से दोनों बेरोजगार युवाओं को नौकरी का झांसा देते थे। युवक वेबसाइट के जरिए ठगों से संपर्क करते तो उन्हें विभिन्न कंपनियों में सिक्योरिटी गार्ड, बाउंसर, सुपरवाइजर, टेलीकॉलर और मानव संसाधन जैसे पदों पर नौकरी का ऑफर दिया जाता। युवाओं से रजिस्ट्रेशन फीस के नाम पर 400 रुपये और सिक्योरिटी मनी के रूप में पदों के अनुसार 2000 से 3000 रुपये जमा कराए जाते थे।

Zomato  नौकरी का झांसा दे 3500 युवाओं से करोड़ों रुपये ठगने वाले शातिर गिरफ्तार o2 badge r

COMMENTS

You cannot copy content of this page