जलदाय मंत्री ने किया जगतपुरा रोड़ क्षेत्र की पेयजल परियोजना का लोकार्पण

जलदाय मंत्री ने किया जगतपुरा रोड़ क्षेत्र की पेयजल परियोजना का लोकार्पण  जलदाय मंत्री ने किया जगतपुरा रोड़ क्षेत्र की पेयजल परियोजना का लोकार्पण Photo 6 scaled

जयपुर। जलदाय मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने कहा है कि राज्य सरकार प्रदेश के सभी गांव, ढाणी और शहरों में पेयजल व्यवस्था के समुचित प्रबंधन पर संकल्पबद्धता के साथ कार्य कर रही है। पेयजल कनैक्शन के लिए ‘ऑनलाईन एप‘ के प्रारम्भ होने से अब जल उपभोक्ताओं को सुगमता के साथ घर बैठे पानी के कनैक्शन की सुविधा मिल सकेगी और उन्हें अनावश्यक रूप से कार्यालयों के चक्कर निकालने की दिक्कत से निजात मिलेगी।

जलदाय मंत्री ने किया जगतपुरा रोड़ क्षेत्र की पेयजल परियोजना का लोकार्पण prachina in article 1

डॉ. कल्ला शुक्रवार को जयपुर में जगतपुरा, प्रतापनगर एवं महल रोड़ क्षेत्र को बीसलपुर से पानी देने के लिए 194.57 करोड़ रुपये की लागत की परियोजना के फेज-प्रथम में जोन-प्रथम की योजना के लोकार्पण तथा पेयजल कनैक्शन के लिए ऑनलाईन एप की लॉंचिंग करने के बाद आयोजित कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। इससे पहले उन्होंने विधिवत रूप से पूजा अर्चना के बार पट्टिका का अनावरण कर जगतपुरा-प्रतापनगर-महल रोड़ क्षेत्र की परियोजना का शुभारम्भ किया।

जलदाय मंत्री ने कार्यक्रम में ऑनलाईन एप के माध्यम से आषीष विहार निवासी रामधनी मीना को जलदाय विभाग द्वारा जारी जल कनैक्शन का प्रमाण-पत्र भी प्रदान किया। एप द्वारा ऑनलाईन आवेदन की सुविधा अभी जयपुर में जगतपुरा और विद्याधर नगर के क्षेत्र के निवासियों को मिलेगी, आगामी दिनों में इसका जयपुर शहर में विस्तार किया जाएगा, फिर चरणबद्ध रूप से पूरे प्रदेश में यह व्यवस्था लागू होगी।

डॉ. कल्ला ने कहा कि जगतपुरा, प्रतापनगर एवं महल रोड़ क्षेत्र की इस परियोजना के जोन-प्रथम के कार्यों से 45 कॉलोनियों के 40 हजार लोगों तक बीसलपुर से स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति होगी। यह प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद करीब ढाई लाख की आबादी इससे लाभांवित होगी। उन्होंने कहा कि आने वाले गर्मी के दिनों से पहले विभाग द्वारा खो-नागोरियान क्षेत्र में भी बीसलपुर का पानी पहुंचाने की कोशिश होगी।

जलदाय मंत्री ने कहा कि यह प्रोजेक्ट वर्ष 2013 में हमारी सरकार द्वारा मंजूर किया गया, मगर पिछली सरकार ने वर्ष 2013 से 2018 तक इसे ठंडे बस्ते में डाले रखा। गत सरकार ने बहुमंजिला इमारतों के लिए घरेलू जल कनैक्शन की दर 42 रुपये प्रति वर्ग फीट रख दी, जो काफी अव्यवहारिक थी। मगर हमारी सरकार ने आते ही बहुमंजिला इमारतों में रहने वाले लोगों को राहत देने के लिए इसका पुनरावलोकन किया और जगतपुरा पेयजल परियोजना के लिए 25 रुपये प्रति वर्ग फीट की व्यवहारिक दर निर्धारित करते हुए लोगों को बड़ी राहत प्रदान की है।

डॉ. कल्ला ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत हर तरीके से आम उपभोक्ता को राहत देने में जुटे है, दूसरी ओर केन्द्र सरकार लगातार जन विरोधी नीतियां बना रही है। प्रदेश में 2103 से पहले जल परियोजनाओं के लिए केन्द्र सरकार द्वारा राज्य को 90 प्रतिषत हिस्सा राशि दी जाती थी, जिसे मौजूदा केन्द्र सरकार ने घटाकर 50 प्रतिशत कर दिया है। इसके बावजूद जल जीवन मिशन के तहत राज्य सरकार घर-घर जल कनैक्शन देने के लिए 8 हजार करोड़ की लागत से परियोजनाएं स्वीकृत कर लोगों को राहत देने के मिशन में जुटी है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विधायक श्रीमती गंगादेवी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में राज्य सरकार लगातार लोगों से किए वादे पूरे कर रही है। क्षेत्र के लोग इस पेयजल परियोजना के लोकार्पण से बहुत खुश है, उन्होंने इसके लिए जलदाय मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए उम्मीद जताई कि इस प्रोजेक्ट के तहत अन्य क्षेत्रों में भी लोगों को बीसलपुर का पानी उपलब्ध कराने के लिए शेष कार्य को समय पर पूरा किया जाएगा।

जलदाय विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री राजेश यादव ने अपने सम्बोधन में कहा कि जयपुर शहर के अन्य लक्षित क्षेत्रों में बीसलपुर का पानी पहुंचाने के लिए विभाग द्वारा सघन प्रयास किए जा रहे है। राज्य सरकार इस प्रोजेक्ट पर पूरा फोकस कर रही है और इसके लिए पर्याप्त बजट भी उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हाऊसिंग बोर्ड क्षेत्र में भी बीसलपुर का पानी देना शुरू किया गया है, आने वाने दिनों में इंफ्रास्ट्रक्चर का कार्य् पूरा होने पर कनैक्शन जारी किए जाएंगे। अतिरिक्त मुख्य अभियंता जयपुर-द्वितीय श्री देवराज सोलंकी ने परियोजना के कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इस अवसर पर जलदाय विभाग के उप शासन सचिव-प्रथम श्री आर. एस. मक्कड़, मुख्य अभियंता (शहरी एवं एनआरडब्ल्यू) श्री सी. एम. चौहान, अधीक्षण अभियंता श्री शुभांषु दीक्षित एवं श्री सतीश जैन सहित जनप्रतिनिधिगण, जलदाय विभाग के अन्य अभियंता एवं कार्मिक तथा क्षेत्र के गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

COMMENTS