fbpx

क्या टिक पाएगी देवेंद्र फडणवीस की सरकार? पवार की अग्नि परीक्षा और तीन अहम सवाल

क्या टिक पाएगी देवेंद्र फडणवीस की सरकार? पवार की अग्नि परीक्षा और तीन अहम सवाल  क्या टिक पाएगी देवेंद्र फडणवीस की सरकार? पवार की अग्नि परीक्षा और तीन अहम सवाल products 13

एनसीपी प्रमुख शरद पवार का ट्वीट आने के बाद तीन बड़े सवाल खड़े हुए हैं। शरद पवार ने कहा कि देवेंद्र फडणवीस सरकार को समर्थन देना अजित पवार का निजी फैसला है। शरद पवार इस फैसले के खिलाफ हैं। उन्होंने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को हर संभव कार्रवाई का भरोसा दिया है। सवाल है कि क्या ऐसे में देवेन्द्र फडणवीस सरकार सत्ता में टिक पाएगी?

केंद्रीय विधि और कानून मामले के पूर्व सचिव का कहना है कि अजित पवार ने भाजपा को समर्थन दिया है। मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक अजित पवार पार्टी के विधायक दल के नेता हैं। सूत्रों के अनुसार विधायक दल के नेता को किसी दूसरे दल को अपनी पार्टी के विधायकों का समर्थन पत्र देने का अधिकार है।

राज्यपाल विधायक दल के नेता पर भरोसा कर सकते हैं, क्योंकि विधायक ही अपने दल का नेता चुनते हैं। इसलिए यहां कुछ भी गलत नहीं है। पूर्व केंद्रीय सचिव का कहना है यह बात अलग है कि पार्टी में बगावत हो, पार्टी के विधायक दूसरा नेता चुन लें या सदन में बहुमत साबित करने की स्थिति आने पर विधायक बागी अजित पवार का साथ छोड़ दें।

शरद पवार की होगी अग्नि परीक्षा
यह एक बड़ा सवाल है। शरद पवार के रुख को देखते हुए मामले का न्यायालय में जाना भी तय माना जा रहा है। इतना ही नहीं राज्यपाल के सामने एनसीपी के विधायकों की परेड कराने जैसी स्थिति आ सकती है। ऐसी दशा में भाजपा की देवेंद्र फडणवीस सरकार को सदन में बहुमत साबित करना पड़ सकता है। यह स्थिति शरद पवार के लिए अपनी पार्टी पर पकड़ बनाए रखने की अग्नि परीक्षा जैसी होगी।

 

यह भी पढ़ें: शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी को भनक तक नहीं लगी और भाजपा ले उड़ी सीएम की कुर्सी

COMMENTS