हमारे शिवालय

354 वर्ष पुराना कोटेश्वर महादेव

कोटेश्वर महादेव मन्दिर

जूनागढ़ के सामने फोर्ट डिस्पेंसरी के पास स्थित कोटेश्वर महादेव मन्दिर लगभग 354 वर्ष पुराना है। शिवलिंग काफी वर्ष पहले 4 फुट नीचे था अब जीर्णोद्वार में इसे उपर स्थापित किया गया। 

मनोवांछित फल प्राप्त करने के लिए हर प्रदोष होती है विशेष पूजा अर्चना। 

koteswar mahadev mandir

किमीहः किंकायः  खलु किमुपायस्त्रिभुवनं

किमाधारो धाता सृजति किमुपादान इति च।

अतर्क्यैश्वर्ये त्वय्यनवसर दुःस्थो हतधियः

कुतर्कोऽयं कांश्चित् मुखरयति मोहाय जगतः।।5।।

 

हे महादेव! वो मूढ़ प्राणी जो स्वयं ही भ्रमित हैं। इस प्रकार से तर्क-वितर्क द्वारा आपके अस्तित्व को चुनौती देने की कोशिश करते हैं। वो कहते हैं कि अगर कोई परं पुरुष है तो उसके क्या गुण हैं? वो कैसा दिखता है? उसके क्या साधन हैं? वो इस श्रृष्टि को किस प्रकार धारण करता है? ये प्रश्न वास्तव में भ्रामक मात्र हैं। वेद ने भी स्पष्ट किया है कि तर्क द्वारा आपको नहीं जाना जा सकता।

What's your reaction?