24 घंटे में बच्चों के मौत का आंकड़ा पहुंचा 12 , मचा हाहाकार

24 घंटे में बच्चों के मौत का आंकड़ा पहुंचा 12 , मचा हाहाकार  24 घंटे में बच्चों के मौत का आंकड़ा पहुंचा 12 , मचा हाहाकार ydty

24 घंटे में बच्चों के मौत का आंकड़ा पहुंचा 12 , मचा हाहाकार mr bika fb post

राजस्थान के कोटा (Kota) के जेके लोन अस्पताल  में शुक्रवार को शिशुओं की मौत का आंकड़ा बढ़कर 12 हो गया. राजस्थान सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) ने इस मामले की जांच के लिए एक समिति का गठन किया है.

24 घंटे में बच्चों के मौत का आंकड़ा पहुंचा 12 , मचा हाहाकार prachina in article 1

चार सदस्यीय समिति तीन दिनों के अंदर अपनी जांच रिपोर्ट पेश करेगी. चिकित्सा शिक्षा सचिव शिवांगी स्वर्णकार  नवजातों की मौत के कारणों की जांच करेंगी. आरसीएच और एसएमएस के दो अतिरिक्त प्राचार्य भी इस जांच में शामिल होंगे.

नवजातों की मौत को लेकर लोकसभा स्पीकर के बाद, जिला कलेक्टर ने एक बैठक बुलाई है. नवजातों की मौत से प्रशासन में हड़कंप मच गया है. राजस्थान (Rajasthan) के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा  ने मौतों के कारण का पता लगाने के लिए मामले में जांच का आदेश दिया है. उन्होंने कहा कि नौ शिशुओं में से तीन को मृत लाया गया जबकि तीन को जन्मजात बीमारियां थीं.

बता दें कि कोटा (Kota News) के जेके लोन अस्पताल में बीते 24 घंटों में 12 नवजातों की मौत हो गई. परिजनों के मुताबिक, डिलीवरी के बाद सभी बच्चे स्वस्थ थे, लेकिन देर रात उनकी तबियत बिगड़ने लगी तो उन्होंने स्टाफ और डॉक्टरों के पास गुहार लगाई, लेकिन लापरवाह स्टाफ बच्चों के रोने को सामान्य बता कर सुबह होने पर डॉक्टर को दिखाने का राग अलापता रहा और एक-एक कर हर घंटे नवजात दम तोड़ते रहे. सुबह होते होते 9 माओं की कोख उजड़ गई. शुक्रवार शाम तक यह आंकड़ा 12 हो गया. मृतक नवजात के परिजनों ने स्टाफ पर लापरवाही और ध्यान न देने के संगीन आरोप लगाए हैं.

COMMENTS